Monday, March 18, 2019

Breaking News

    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||   हिमाचल प्रदेश: किन्नौर जिले में आया भूकंप, तीव्रता 3.5     ||   PAK सेना के ISPR के डीजी ने कहा- हम युद्ध की तैयारी नहीं कर रहे, भारत धमकी दे रहा है     ||   ICC को खत लिखेगी BCCI- आतंक समर्थक देश के साथ खत्म हो क्रिकेट संबंध     ||

102 साल की दादी मां ने दिखाया गजब का जज्बा, 14 हजार फीट की ऊंचाई से लगाई छलांग

अंग्वाल न्यूज डेस्क
102 साल की दादी मां ने दिखाया गजब का जज्बा, 14 हजार फीट की ऊंचाई से लगाई छलांग

नई दिल्ली। साहसिक खेलों का शौक तो सभी को रहता है लेकिन सही में उसे अंजाम देने में अच्छे-अच्छे खिलाड़ियों की हिम्मत जवाब दे जाती है। साहसिक खेलों में सबसे ज्यादा जरूरत व्यक्ति की चुस्ती-फुर्ती की होती है। आमतौर पर जिस उम्र में लोग बिस्तर पकड़ लेते हैं या फिर भगवान का नाम लेते हैं उस उम्र में आॅस्ट्रेलिया में रहने वाली 102 साल की दादी मां ने 14 हजार की फीट से स्काईडाइविंग कर एक नया कीर्तिमान स्थापित कर दिया है। इरेन ओशी नाम की इस महिला ने बताया कि स्काईडाइविंग से मिलने वाली रकम को वे चैरिटी में दान कर देंगी।

गौरतलब है कि इरेन ने अपनी 100वीं वर्षगांठ के मौके पर भी ऐसी कोशिश की थी लेकिन उसमें सफल नहीं हो पाई थी। 102 साल की उम्र में 14 हजार फीट की ऊंचाई से छलांग वाली इरेन ओशी ऐसा करने वाली दुनिया की सबसे उम्रदराज महिला बन गई हैं। 

ये भी पढ़ें - अब बस 500 रुपये में ले सकते हैं जेल का अनुभव, तिहाड़ प्रशासन शुरू कर रहा नई योजना


यहां बता दें कि इरेन ओशी ने 220 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से 14 हजार किलोमीटर की ऊंचाई से छलांग लगाई। रिकॉर्ड बनाने के बाद दादी मां ने कहा ‘ऊपर बहुत ठंड थी। मेरे दांत किड़किड़ाने लगे थे, लेकिन बहुत मजा आया।’  आपको बता दें कि दादी मां को ओशी मोटर न्यूरॉन डिजीज है। स्काईडाइविंग से मिलने वाली राशि को वह मोटर न्यूरॉन डिजीज के चैरिटी फंड में देंगी ताकि लोग इस बीमारी के प्रति जागरूक हो सकें।

 

Todays Beets: