Tuesday, March 26, 2019

Breaking News

    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||   हिमाचल प्रदेश: किन्नौर जिले में आया भूकंप, तीव्रता 3.5     ||   PAK सेना के ISPR के डीजी ने कहा- हम युद्ध की तैयारी नहीं कर रहे, भारत धमकी दे रहा है     ||   ICC को खत लिखेगी BCCI- आतंक समर्थक देश के साथ खत्म हो क्रिकेट संबंध     ||

आज चांद को देखना न भूल जाएं, माघ पूर्णिमा पर सुपर स्नो मून का आकार और चमक होगी कई ज्यादा

अंग्वाल न्यूज डेस्क
आज चांद को देखना न भूल जाएं, माघ पूर्णिमा पर सुपर स्नो मून का आकार और चमक होगी कई ज्यादा

नई दिल्ली । आज रात चांद को जरूर देखिएगा , क्योंकि आज आकाश में साल का सबसे बड़ा और बेहद खूबसूरत नजर आएगा। वैज्ञानिकों का कहना है कि आज चांद का यह स्वरूप मात्र पूर्णिमा की चलते नहीं बल्कि एक खास खगोलीय घटना के चलते नजर आएगा। वैसे आज माघ पूर्णिमा और मंगलवार को इस पूर्णिमा एक खास खगोलीय घटना के लिहाज से अहम है। वैज्ञानिकों की मानें तो आज आकाश में चांद का जो नजारा नजर आएगा, वह इसके बाद 2555 दिनों बाद दिखेगा। ऐसे में आज अंधेरा होने पर चांद का दीदार जरूर करें। क्योंकि ऐसा नहीं किया तो अगले सुपर स्नो मून का नजारा करीब सात साल दिसंबर 2026 में दिखेगा।

वैज्ञानिकों के अनुसार, माघ पूर्णिमा इस बार एक खगोलीय घटना के लिए अहम है। मंगलवार को आकाश में चांद जिस स्वरूप में नजर आएगा , उसे सुपर स्नो मून (Super Snow Moon) कहते हैं। अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा के अनुसार सुपर स्नो मून तब होता है, जब पूर्णिमा के दिन चांद-धरती के सबसे नजदीक होता है। इस वजह से इसका आकार और रोशनी आम पूर्णिमा के चांद के मुकाबले काफी ज्यादा होता है। इस दौरान चांद ज्यादा चमकीला और बड़ा दिखाई देता है। इसलिए इस खगोलीय घटना को सुपर स्नो मून कहा जाता है।


इस दौरान चांद अपने सामान्य आकार से लगभग 14 फीसद बड़ा और 30 प्रतिशत ज्यादा चमकीला दिखेगा। वैज्ञानिकों के अनुसार चांद के पूरे आकार और रोशनी को देखने के लिए दूरबीन या टेलिस्कोप की मदद ली जा सकती है।

भारत समेत ये सुपर स्नो मून दुनिया के कई देशों में दिखेगा। सुपर स्नो मून का समय आज रात नौ बजकर 23 मिनट से शुरू होगा। सुपर स्नो मून का समय रात 11 बजकर 23 मिनट तक बताया जा रहा है। 

Todays Beets: