Tuesday, October 23, 2018

Breaking News

   सेना हर चुनौती से न‍िपटने के ल‍िए तैयार, सर्जिकल स्ट्राइक भी व‍िकल्‍प: रणबीर सिंह    ||   BJP विधायक मानवेंद्र ने बदला पाला, राज्यवर्धन बोले- कांग्रेस ने 70 साल में मंत्री नहीं बनाया    ||   सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर छिड़ी जंग, हिरासत में 30 प्रदर्शनकारी    ||   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||   केरलः अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद ने सबरीमाला फैसले के खिलाफ HC में लगाई याचिका    ||   कोलकाताः HC ने दुर्गा पूजा आयोजकों को ममता के 28 करोड़ देने के फैसले पर रोक लगाई    ||    रूस के साथ S-400 एयर डिफेंस मिसाइल पर भारत की डील    ||   नार्वेः राजधानी ओस्लो में आज होगा शांति के नोबेल पुरस्कार का ऐलान    ||   अंकित सक्सेना मर्डर केसः ट्रायल के लिए अभियोगपक्ष के 2 वकीलों की नियुक्ति    ||   जम्मू कश्मीर में नेशनल कॉफ्रेंस के दो कार्यकर्ताओं की गोली मारकर हत्या, मरने वालों में एक MLA का पीए भी     ||

सन् 1942 से लापता हुआ यह जोड़ा 75 साल बाद मिला बर्फ की पहाड़ियों में, पढ़े पूरी रिपोर्ट

अंग्वाल संवाददाता
सन् 1942 से लापता हुआ यह जोड़ा 75 साल बाद मिला बर्फ की पहाड़ियों में, पढ़े पूरी रिपोर्ट

बर्न। स्विट्जरलैंड की आल्पस पहाड़ियों से एक चौंका देने वाली घटना सामने आई है। वहां आल्पस पहाड़ियों क्षेत्र में 75 साल पुराने एक जोड़े का शव मिला है। बताया जा रहा है कि इस जोड़े का शव लगभग सन् 1942 से यहां बर्फ से ढ़का हुआ था। करीब 75 साल पहले 15 अगस्त 1942 को यह शव लापता हो गया था। बाद में उनके परिजनों से पूछने पर पता चला था कि वह जोड़ा गाय का दूध निकालने गए थे और तभी से लापता है। हालांकि जोड़े का शव भारी बर्फ में दबे होने के कारण महिला और पुरुष दोनों का शरीर सुरक्षित है। स्थानीय पुलिस के अनुसार, दक्षिण स्विट्जरलैंड में 3000 मीटर की ऊंचाई पर स्थित स्की रिसार्ट डायबलर्ट्स मैसिक की पहाड़ियों में दोनों का शव आस-पास ही मिला। पुलिस ने बताया कि शव के साथ बैग, बोतल, किताब और घड़ी जैसी छोटे अन्यों समान भी वहीं उनके साथ पड़े हुए थे।

 

 


आपको बता दें कि इस जोड़े की सात बच्चें लंबे समय से पता लगा रही थी कि आखिर उनके माता-पिता के साथ ऐसा क्या हुआ कि वह लापता हो गए हो फिर कभी लौट कर नहीं आए। बताया जा रहा है कि घटना के समय 40 साल के घड़ी निर्माता मार्सिलन डुमोलिन और उनकीस्कूल टीचर पत्नी फ्रांसिन अपने मवेशियों को चराने के लिए पहाड़ियों की ओर ले गए थे, लेकिन फिर कभी वापस नहीं लौटे।

 

Todays Beets: