Tuesday, February 19, 2019

Breaking News

   महाराष्ट्रः ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा चलाई गई शकुंतला नैरो गेज ट्रेन में लगी आग     ||   केरलः दक्षिण पश्चिम तट से अवैध तरीके से भारत में घुसते 3 लोग गिरफ्तार     ||   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||

अब आसमान में दिखेगा एक और सूरज, असली सूरज से होगा 6 गुना ज्यादा गर्म

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अब आसमान में दिखेगा एक और सूरज, असली सूरज से होगा 6 गुना ज्यादा गर्म

नई दिल्ली। आसमान में मौजूद एक सूरज ही गर्मी के दिनों में लोगों के पसीने छुड़ा देता है ऐसे में अगर आकाश में एक और सूरज निकल आए तो क्या हाल होगा इसका अंदाजा आसानी से लगाया जा सकता है। यह बात सच है कि चीन जल्द ही एक कृत्रिम सूरज तैयार करने में जुटा हुआ है। यह सूरज असली सूरज की तुलना में 6 गुना ज्यादा गर्मी पैदा करेगा। चीन का कहना है कि स्वच्छ ऊर्जा पैदा करने के मकसद से इस सूरज का निर्माण किया जा रहा है।

गौरतलब है कि चीन की एकेडमी ऑफ साइंस से जुड़े इंस्टीट्यूट ऑफ प्लाजमा फिजिक्स में इसका परीक्षण किया जा रहा है। इस सूरज को एक्सपेरिमेंटल सुपरकंडक्टिंग टोकामक नाम दिया गया है। बताया जा रहा है कि इसकी बनावट एक खोखले डब्बे की तरह तरह है जिसमें न्यूक्लियर फ्यूजन (परमाणु के विखंडन) के जरिए गरमी पैदा की जा सकती है। हालांकि इसे एक दिन के लिए चालू करने का खर्च 15 हजार डॉलर (करीब 11 लाख रुपए) है। फिलहाल इस मशीन को चीन के अन्हुई प्रांत स्थित साइंस द्वीप में रखा गया है। 

ये भी पढ़ें - स्पेसएक्स ने किया चंद्रमा पर जाने वाले पहले यात्री का ऐलान, जापानी अरबपति युसाकू माएजावा करें...


गौर करने वाली बात है कि असली सूरज का कोर करीब 1.50 करोड़ डिग्री सेल्सियस तक गरम होता है, वहीं चीन का यह नया सूरज 10 करोड़ डिग्री सेल्सियस तक की गरमी पैदा कर सकेगा। यह सौर मंडल के मध्य में स्थित किसी तारे की तरह ही ऊर्जा का भंडार उपलब्ध कराएगा। चीन द्वारा तैयार किया जा रहा कृत्रिम सूरज भले ही स्वच्छ ऊर्जा मुहैया कराने के लिए तैयार किया जा रहा हो लेकिन इससे निकलने वाले जहरीला कचरा  इंसानों के लिए काफी खतरनाक होगा।  

 

Todays Beets: