Sunday, May 27, 2018

Breaking News

   कानपुर जहरीली शराब मामले में 5अधिकारी निलंबित     ||   अब जल्द ही बिना नेटवर्क भी कर सकेंगे कॉल, बस Wi-Fi की होगी जरुरत     ||   मौलाना मदनी ने भी की एएमयू से जिन्‍ना की तस्‍वीर हटाने की वकालत     ||   भारत-चीन सेना के बीच हॉटलाइन की तैयारी, LoC पर तनाव होगा दूर     ||   कसौली में धारा 144 लागू, आरोपित पुलिस की गिरफ्त से बाहर     ||   स्कूली बच्चों पर पत्थरबाजी से भड़के उमर अब्दुल्ला, कहा- ये गुंडों जैसी हरकत     ||   थर्ड फ्रंट: ममता, कनिमोझी....और अब केसीआर की एसपी चीफ अखिलेश यादव के साथ बैठक     ||   मायावती का पलटवार, कहा- सत्ता के अहंकार में जनता को मूर्ख समझ रही BJP; शाह के गुरू मोदी ने गिराया पार्टी का स्तर     ||   चीन के स्‍पर्म बैंक ने रखी अनोखी शर्त, सिर्फ कम्‍युनिस्‍टों का समर्थन करने वाले ही दान कर सकेंगे स्‍पर्म     ||   CBSE पेपर लीक: हिमाचल से टीचर समेत 3 गिरफ्तार, पूछताछ में हो सकता है अहम खुलासा     ||

मुफ्त वाई-फाई की मदद से ‘कुली’ ने पास की सिविल सेवा परीक्षा, तीसरे प्रयास में मिली सफलता

अंग्वाल न्यूज डेस्क
मुफ्त वाई-फाई की मदद से ‘कुली’ ने पास की सिविल सेवा परीक्षा, तीसरे प्रयास में मिली सफलता

नई दिल्ली। ‘‘कौन कहता है आसमां में सुराख नहीं हो सकता, एक पत्थर तो तबीयत से उछालो यारो’’। यह कहावत तो आपने जरूरी सुनी होगी और यह पूरी तरह से फिट बैठती है कि केरल में स्टेशन पर कुली का काम करने वाले श्रीनाथ के. पर। श्रीनाथ ने स्टेशन के मुफ्त वाई-फाई की मदद से सिविल सेवा परीक्षा की लिखित परीक्षा पास की है। श्रीनाथ केरल के एर्नाकुलम स्टेशन पर पिछले 5 सालों से कुली का काम कर रहे हैं। श्रीनाथ के मन में एक बड़ा अधिकारी बनने का सपना तो था लेकिन सुविधाओं की कमी के चलते यह संभव नहीं हो पा रहा था। उन्होंने स्टेशन पर उपलब्ध मुफ्त वाईफाई सुविधा के सहारे इंटरनेट के जरिए पढ़ाई की और अपने तीसरे प्रयास में केरल पब्लिक सर्विस कमीशन (केपीएससी) की लिखित परीक्षा पास की। 

ये भी पढ़ें - यूपी का यह ‘लाल’ है रियल लाइफ का ‘बजरंगी भाईजान’, जेल में बंद बेटे को मिलाया मां-बाप से


बड़ी बात यह रही है कि श्रीनाथ पढ़ाई के लिए किताबों में ही डूबे नहीं रहे बलिक अपना काम करते हुए उन्होंने अपने स्मार्टफोन और ईयरफोन के जरिए पढ़ाई करते रहे। अब अगर श्रीनाथ साक्षात्कार में सफल हो जाते हैं तो वह भूमि राजस्व विभाग के तहत विलेज फील्ड असिस्टेंट के पद पर नियुक्त हो जाएंगे। गौरतलब है कि पिछले 5 सालों से कुली का काम कर रहे श्रीनाथ का यह तीसरा प्रयास था। उनका कहना है कि यह पहला मौका था, जब उन्होंने स्टेशन पर उपलब्ध वाईफाई सुविधा का इस्तेमाल किया। 

उन्होंने ये भी बताया कि कुली का काम करने के दौरान वे हमेशा ईयरफोन कान में लगाए रखते थे और इंटरनेट पर अपने संबंधित विषयों पर लेक्चर सुना करते थे। उसे मन ही मन दोहराते भी रहते थे और रात को मौका मिलते ही फिर रिवाइज कर लेते थे। इसी वाईफाई की मदद से उन्होंने ऑनलाइन अपना परीक्षा फार्म भरा और देश दुनिया की ताजा जानकारियों से खुद को अपडेट किया साथ ही अपने विषयों की जमकर तैयारी की। अब आगे वह दूसरी प्रशासनिक परीक्षाओं के बारे में भी सोच रहे हैं।

Todays Beets: