Thursday, September 20, 2018

Breaking News

   ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के पूर्व जीएम के ठिकानों पर आयकर के छापे     ||   बिहार: पूर्व मंत्री मदन मोहन झा बनाए गए प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष। सांसद अखिलेश सिंह बनाए गए अभियान समिति के अध्यक्ष। कौकब कादिरी समेत चार बनाए गए कार्यकारी अध्यक्ष।     ||   कर्नाटक के मंत्री शिवकुमार के खिलाफ ED ने मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया    ||   सीतापुर में श्रद्धालुओें से भरी बस खाई में पलटी 26 घायल, 5 की हालत गंभीर     ||   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||

अलीगढ़ में मातम हुआ ‘खुशियों में तब्दील’, मौत के कुछ ही घंटे बाद जीवित हुआ रामकिशोर

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अलीगढ़ में मातम हुआ ‘खुशियों में तब्दील’, मौत के कुछ ही घंटे बाद जीवित हुआ रामकिशोर

अलीगढ़। ऐसा तो अक्सर ही सुना जाता है कि किसी भी घर में खुशियां मातम में तब्दील हो गई लेकिन क्या आपने कभी ऐसा सुना है कि किसी घर में पसरा मातम खुशियों में तब्दील हो गई। जी हां, उत्तरप्रदेश के अलीगढ़ के किरथल इलाके में ऐसा हुआ है जहां मौत के कुछ ही घंटे के जब उसके अंतिम संस्कार की तैयारी की जा रही थी वह जीवित हो उठा। पहले तो सभी डर गए लेकिन जब उसने सबका नाम पुकारने शुरू किया तो घर वालों में खुशी की लहर दौड़ गई। पुनर्जीवित होने के बाद जो बातें उसने सुनाई उसे सुनकर सभी हैरान हो गए।

गौरलतब है कि अलीगढ़ के किरथल गांव में रहने वाले रामकिशोर नाम के व्यक्ति की मौत हो गई थी। उसकी मौत के बाद घर परिवार में मातम का माहौल था, सभी सगे-संबंधी परिजनों को ढांढ़स बंधाने के लिए पहुंच गए। इस बीच उसके अंतिम संस्कार की तैयारी भी शुरू कर दी गई। इन तैयारियों के बीच रामकिशोर के शरीर में हरकत होने लगी। यह देखकर वहां मौजूद सभी लोग घबरा गए लेकिन जब उसने सभी लोगों के नाम पुकारने शुरू किए तो वहां खुशी की लहर दौड़ गई। जब उससे पूछा गया तो उसने बताया ‘गलती से ले गए थे, वापस भेज दिया।’


ये भी पढ़ें - महिला पायलट की दिलेरी ने बचाई सैकड़ों यात्रियों की जान, 32 हजार फीट की ऊंचाई पर इंजन में हुआ धमाका 

यहां बता दें कि रामकिशोर के पुनर्जीवित होने पर उसने जो कहानी सुनाई उसे सुनकर सभी हैरान रह गए। रामकिशोर ने बताया कि उसे ज्यादा कुछ याद नहीं है लेकिन कुछ दाढ़ी वाले महात्मा एक बड़े दाढ़ी वाले महात्मा को अपना-अपना पक्ष बता रहे थे। इसी बीच उन्होंने पूछा इसे क्यों ले आए हो, जरा देखो, बस एक आवाज और आई इसे क्यों ले आए, अभी वक्त है। इतना सुनने के बाद ही लगा कि किसी ने धक्का दे दिया और जब आंख खुली तो परिवार को बिलखते हुए देखा। इस दरम्यान दिखने वाले न तो किसी का चेहरा ध्यान है और न इसके सिवाए और कुछ बात याद है।

Todays Beets: