Friday, March 22, 2019

Breaking News

    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||   हिमाचल प्रदेश: किन्नौर जिले में आया भूकंप, तीव्रता 3.5     ||   PAK सेना के ISPR के डीजी ने कहा- हम युद्ध की तैयारी नहीं कर रहे, भारत धमकी दे रहा है     ||   ICC को खत लिखेगी BCCI- आतंक समर्थक देश के साथ खत्म हो क्रिकेट संबंध     ||

कबाड़ बन चुका विमान बनेगा बेहतरीन म्यूजियम, लोगों को देगा एक अनोखा अनुभव

अंग्वाल न्यूज डेस्क
कबाड़ बन चुका विमान बनेगा बेहतरीन म्यूजियम, लोगों को देगा एक अनोखा अनुभव

नई दिल्ली। संग्रहालय या म्यूजियम तो आपने कई देखे होंगे लेकिन क्या आपने हवाई जहाज में म्यूजियम के बारे में सुना है। नहीं तो चलिए हम आपको इसके बारे में बताने जा रहे हैं। नेपाल के त्रिभुवन अंतरराज्यीय हवाई अड्डे पर यात्रियों को ले जा रहा एक एयरबस रनवे से फिसलकर दुर्घटनाग्रस्त हो गया था, हालांकि इसमें किसी यात्री को कोई नुकसान नहीं हुआ लेकिन टेक्नीशियनों ने इस हवाई जहाज को हवाई अड्डे के एक कोने में खड़ा कर दिया। कबाड़ में तब्दील हो चुके इस प्लेन की किस्मत बदलने जा रही है। अब यह एक अनोखे म्यूजियम में तब्दील होने जा रहा है।

म्यूजियम में तब्दील होगा प्लेन

बता दें कि नेपाल के रहने वाले पायलट बेद उप्रेती ने इसे म्यूजियम में तब्दील करने का बीड़ा उठाया है। बेद उप्रेती पहले भी इस तरह के म्यूजियम का निर्माण कर चुके हैं। दो साल पहले 2015 में करीब 224 यात्रियों को ले जा रहा यह ए330 एयरबस रनवे पर फिसलकर दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। हवाई अड्डे के एक कोने में पड़े रहने के कारण यह कबाड़ बन गया था। उप्रेती ने इस जंग लगे विमान पर 6 लाख डॉलर (करीब 4 करोड़ रुपये) खर्च किए और अब इसे एक हवाई जहाज के म्यूजियम में तब्दील कर रहे हैं।


ये भी पढ़ें - सऊदी अरब रोबोट को नारिकता देने वाला पहला देश बना, रोजमर्रा के कामों के साथ सवालों का भी देगी जवाब

ये खूबियां होंगी इस म्यूजियम की 

इस हवाई जहाज को तुर्की से आए इंजीनियरों की मदद से पहले पूरी तरह से काटा गया फिर इसके अंदर की सीटों को पूरी तरह से हटाकर इसे जोड़ा गया ताकि अंदर काफी खाली स्पेस दिखे। बिजनेस क्लास वाले सेक्शन में  राईट ब्रदर्स द्वारा बनाए गए पहले प्लेन के माॅडल को रखा जाएगा और पिछले हिस्से में पर्यटकों के लिए कैफे बनाया जाएगा। अन्य हिस्सों में हवाई जहाज के छोटे-छोटे माॅडल रखे जाएंगे जो दुनिया भर के हवाई जहाज के इतिहास के साथ नेपाल के विमान कंपनियों के बारे में जानकारी देंगे। अभी इस पर काम अभी जारी है लेकिन जब यह पूरी तरह से तैयार होगा तो ये नेपाल के उन लोगों के लिए एक शानदार अनुभव होगा, जिन्होंने आजतक कोई प्लेन अंदर से नहीं देखा है। 

Todays Beets: