Thursday, July 19, 2018

Breaking News

   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||   नीतीश का गठबंधन को जवाब कहा गठबंधन सिर्फ बिहार में है बाहर नहीं     ||   जापान में बारिश का कहर जारी 100 से ज्यादा लोगों की मौत     ||   PM मोदी के नोएडा दौरे से पहले लगा भारी जाम, पढ़ें पूरी ट्रैफिक एडवाइजरी     ||    नीतीश ने दिए संकेत: केवल बिहार में है भाजपा और जदयू का गठबंधन, राष्ट्रीय स्तर पर हम साथ नहीं    ||   निर्भया मामले में तीनों दोषियों को होगी फांसी, सुप्रीम कोर्ट ने याचिका ठुकराई    ||   उत्तर भारत में धूल: चंडीगढ़ में सुबह 11 बजे अंधेरा छाया, 26 उड़ानें रद्द; दिल्ली में भी धूल कायम     ||

रूस में पैदा हुआ मंगलग्रह पर रहने वाला पायलट, पिछले जन्म की बातें बताकर कर दिया हैरान

अंग्वाल न्यूज डेस्क
रूस में पैदा हुआ मंगलग्रह पर रहने वाला पायलट, पिछले जन्म की बातें बताकर कर दिया हैरान

इंसानों का पुनर्जन्म होता है इस बात को तो भारत में काफी अरसे से माना जा रहा है लेकिन विदेशों में अक्सर इसे लेकर विरोधाभास रहा है। फिलहाल रूस में जन्मे एक बालक बोरिसका किपरियानोविच ने अपनी बातों से पूरी दुनिया का ध्यान अपनी ओर खींचा है। इस बच्चे का कहना है कि वह मंगल ग्रह पर पायलट था और उन दिनों में वह कई बार धरती के चक्कर लगा चुका है। इस बच्चे के माता-पिता भी इसके ज्ञान से हैरान है।

कई बार आया धरती पर 

गौरतलब है कि बोरिसका किपरियानोविच का जन्म रूस में हुआ है। उसने बताया कि मंगल ग्रह से पायलट के तौर पर धरती पर आने के दौरान ही उसकी मृत्यू हो गई थी। उसने बताया कि जिस समय वह धरती पर आया था उस समय मंगल ग्रह की सभ्यता काफी विकसित थी। बता दें कि वह आज से करीब 70 हजार साल लेमूरियन पृथ्वी पर रहते थे। बोरिसको का दावा है कि उस सभ्यता में उनके कई दोस्त थे और उन्होंने उसे नष्ट होते हुए देखा था। 


 

माता-पिता भी हैरान

आपको बता दें कि बोरिसका के माता-पिता भी उसके ज्ञान के आगे हैरान हैं। उनका कहना है कि महज 4 महीने की उम्र में ही इसने बोलना शुरू कर दिया था और 8 महीने में तो इसने पूरा वाक्य बोलना चालू कर दिया था। यहां सबसे ज्यादा गौर करने वाली बात है कि बोरिसका ने बताया कि मनुष्य के विकास का राज ईजिप्ट के स्फिंक्स में छुपा हुआ है। उसके कानों के पीछे छिपे राज को कैसे खोला जाए इसके बारे में उसे पता नहीं है।  

Todays Beets: