Tuesday, January 22, 2019

Breaking News

   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||

रूस में पैदा हुआ मंगलग्रह पर रहने वाला पायलट, पिछले जन्म की बातें बताकर कर दिया हैरान

अंग्वाल न्यूज डेस्क
रूस में पैदा हुआ मंगलग्रह पर रहने वाला पायलट, पिछले जन्म की बातें बताकर कर दिया हैरान

इंसानों का पुनर्जन्म होता है इस बात को तो भारत में काफी अरसे से माना जा रहा है लेकिन विदेशों में अक्सर इसे लेकर विरोधाभास रहा है। फिलहाल रूस में जन्मे एक बालक बोरिसका किपरियानोविच ने अपनी बातों से पूरी दुनिया का ध्यान अपनी ओर खींचा है। इस बच्चे का कहना है कि वह मंगल ग्रह पर पायलट था और उन दिनों में वह कई बार धरती के चक्कर लगा चुका है। इस बच्चे के माता-पिता भी इसके ज्ञान से हैरान है।

कई बार आया धरती पर 

गौरतलब है कि बोरिसका किपरियानोविच का जन्म रूस में हुआ है। उसने बताया कि मंगल ग्रह से पायलट के तौर पर धरती पर आने के दौरान ही उसकी मृत्यू हो गई थी। उसने बताया कि जिस समय वह धरती पर आया था उस समय मंगल ग्रह की सभ्यता काफी विकसित थी। बता दें कि वह आज से करीब 70 हजार साल लेमूरियन पृथ्वी पर रहते थे। बोरिसको का दावा है कि उस सभ्यता में उनके कई दोस्त थे और उन्होंने उसे नष्ट होते हुए देखा था। 


 

माता-पिता भी हैरान

आपको बता दें कि बोरिसका के माता-पिता भी उसके ज्ञान के आगे हैरान हैं। उनका कहना है कि महज 4 महीने की उम्र में ही इसने बोलना शुरू कर दिया था और 8 महीने में तो इसने पूरा वाक्य बोलना चालू कर दिया था। यहां सबसे ज्यादा गौर करने वाली बात है कि बोरिसका ने बताया कि मनुष्य के विकास का राज ईजिप्ट के स्फिंक्स में छुपा हुआ है। उसके कानों के पीछे छिपे राज को कैसे खोला जाए इसके बारे में उसे पता नहीं है।  

Todays Beets: