Tuesday, November 21, 2017

Breaking News

   मैदान पर विराट के आक्रामक रवैये पर राहुल द्रविड़ को सताई चिंता     ||   अजहर को अंतर्राष्ट्रीय आतंकी घोषित नहीं करेगा चीन, प्रस्ताव पर रोक लगाने के संकेत     ||   दुनिया की सबसे लंबी सुरंग बनाकर चीन अब ब्रह्मपुुत्र नदी का पानी रोकने का बना रहा है प्लान     ||   पीएम मोदी को शीला दीक्षित ने दिया जवाब- हमने नहीं भुलाया पटेल का योगदान    ||   पटना पहुंचे मोहन भागवत, यज्ञ में भाग लेने जाएंगे आरा, नीतीश भी जाएंगे    ||   अखिलेश को आया चाचा शिवपाल का फोन, कहा- आप अध्यक्ष हैं आपको बधाई    ||   अमेरिका में सभी श्रेणियों में H-1B वीजा के लिए आवश्यक कार्रवाई बहाल    ||   रोहिंग्या पर किया वीडियो पोस्ट, म्यांमार की ब्यूटी क्वीन का ताज छिना    ||   अब गेस्ट टीचरों को लेकर CM केजरीवाल और LG में ठनी    ||   केरल में अमित शाह के बाद योगी की पदयात्रा, राजनीतिक हत्याओं पर लेफ्ट को घेरने की रणनीति    ||

रूस में पैदा हुआ मंगलग्रह पर रहने वाला पायलट, पिछले जन्म की बातें बताकर कर दिया हैरान

अंग्वाल न्यूज डेस्क
रूस में पैदा हुआ मंगलग्रह पर रहने वाला पायलट, पिछले जन्म की बातें बताकर कर दिया हैरान

इंसानों का पुनर्जन्म होता है इस बात को तो भारत में काफी अरसे से माना जा रहा है लेकिन विदेशों में अक्सर इसे लेकर विरोधाभास रहा है। फिलहाल रूस में जन्मे एक बालक बोरिसका किपरियानोविच ने अपनी बातों से पूरी दुनिया का ध्यान अपनी ओर खींचा है। इस बच्चे का कहना है कि वह मंगल ग्रह पर पायलट था और उन दिनों में वह कई बार धरती के चक्कर लगा चुका है। इस बच्चे के माता-पिता भी इसके ज्ञान से हैरान है।

कई बार आया धरती पर 

गौरतलब है कि बोरिसका किपरियानोविच का जन्म रूस में हुआ है। उसने बताया कि मंगल ग्रह से पायलट के तौर पर धरती पर आने के दौरान ही उसकी मृत्यू हो गई थी। उसने बताया कि जिस समय वह धरती पर आया था उस समय मंगल ग्रह की सभ्यता काफी विकसित थी। बता दें कि वह आज से करीब 70 हजार साल लेमूरियन पृथ्वी पर रहते थे। बोरिसको का दावा है कि उस सभ्यता में उनके कई दोस्त थे और उन्होंने उसे नष्ट होते हुए देखा था। 


 

माता-पिता भी हैरान

आपको बता दें कि बोरिसका के माता-पिता भी उसके ज्ञान के आगे हैरान हैं। उनका कहना है कि महज 4 महीने की उम्र में ही इसने बोलना शुरू कर दिया था और 8 महीने में तो इसने पूरा वाक्य बोलना चालू कर दिया था। यहां सबसे ज्यादा गौर करने वाली बात है कि बोरिसका ने बताया कि मनुष्य के विकास का राज ईजिप्ट के स्फिंक्स में छुपा हुआ है। उसके कानों के पीछे छिपे राज को कैसे खोला जाए इसके बारे में उसे पता नहीं है।  

Todays Beets: