Thursday, January 18, 2018

Breaking News

   98 साल की उम्र में MA करने वाले राज कुमार का संदेश, कहा-हमेशा कोशिश करते रहें     ||   मुंबई स्टॉक एक्सचेंज ने पार किया 34000 का आंकड़ा, ऑफिस में जश्न का माहौल     ||   पं. बंगाल: मालदा से 2 लाख रुपये के फर्जी नोट बरामद, एक गिरफ्तार    ||   सेक्स रैकेट का भंड़ाभोड़: दिल्ली की लेडी डॉन सोनू पंजाबन अरेस्ट    ||   रूपाणी कैबिनेट: पाटीदारों का दबदबा, 1 महिला को भी मंत्रिमंडल में मिली जगह    ||   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद    ||   RTI में खुलासा- भगत सिंह-राजगुरु-सुखदेव को अब तक नहीं मिला शहीद का दर्जा, सरकारी किताब में बताया गया 'आतंकी'     ||    गुजरात चुनाव: रैली में बोले BJP नेता- दाढ़ी-टोपी वालों को कम करना पड़ेगा, डराने आया हूं ताकि वो आंख न उठा सकें    ||   मध्य प्रदेश: बाबरी विध्वंस पर जुलूस निकाल रहे विहिप-बजरंग दल कार्यकर्ता पर पथराव, भड़क गई हिंसा    ||   बैंक अकाउंट को आधार से जोड़ने की तारीख बढ़ी, जानिए क्या है नई तारीख    ||

25 साल पहले जैल से फरार कैदी लौटा जेल वापस, वजह जान रह जाएंगे हैरान

अंग्वाल संवाददाता
25 साल पहले जैल से फरार कैदी लौटा जेल वापस, वजह जान रह जाएंगे हैरान

भले ही आप अपने कमरे को बंद करके कई घंटों उसमें अंदर रहे, आपको कोई परेशानी नहीं होगी। अगर इस पूरे घटनाक्रम को हम दूसरे नजरिए ये देखें, मसलन- कोई हमें बाहर से बंद कर दे तो हमारे अंदर एक बेचेनी पैदा होगी, जो हमें वहां आराम से बैठने नहीं देगी। अमूमन हर कोई अपने ऊपर किसी प्रकार की बंदिश नहीं चाहता। क्या पंक्षी और क्या आदमी। एक पंक्षी भी पिंजरे में मजबूरी में बंद रहता है और मौका पाते ही नीले आकाश में उड़ जाने की चाहत रखता है। बात किसी आदमी की करें तो उनके स्वभाव में बंधक बनकर रहना, उन्हें कभी पसंद नहीं आता, लेकिन हम आपको बता रहे हैं एक ऐसे शख्स के बारे में जो 25 साल पहले जेल से भाग गया था, लेकिन एक बार फिर उसे बंधक बनकर रहना, उस नीले आकाश के नीचे घूमने से ज्यादा बेहतर लगा है। आखिर क्या हुआ, जो जेल से भागने के 25 साल बाद वह लौटकर जेल में बंद होने के लिए आ गया। 

असल में यह कैदी कोच्चि के मतानचैरी का रहने वाला नजर है। सन् 1991 में हत्या के आरोप में गिरफ्तार किए जाने के बाद नजर को सजा सुनाई गई और उसे जेल भेज दिया गया। सन् 1992 में दिसंबर माह में वह 30 दिन की पैरोल पर फरार हो गया। उसे काफी खोजा गया लेकिन वह किसी की पकड़ में नहीं आया। इस बात को अब 25 साल हो गये हैं। नजर की उम्र 55 साल हो गई है। इस घटना को लेकर अब कोच्चि पुलिस ने बताया कि एक दिन नजर खुद ही जेल में वापस लौट आया। उसने खुद ही जेल के अफसरों को अपने जेल से भागने की पूरी कहानी सुनाई और बताया कि वह इतने समय कहां रहा। इसके बाद उसने बताया कि अब उसे कैंसर हो गया है। ऐसे में वह जेल में वापस आ गया। 


जेल में मौजूद पुलिस अधिकारियों ने पुराने आंकड़ों को खंगालने के बाद उसे एक बार फिर जेल में बंद कर दिय। आपको बता दें कि नजर अविवाहित है और वो भाग कर खाड़ी देश चला गया था,लेकिन जैसे ही उसे पता चला कि वह कैंसर जैसी भंरकर बामारी पीड़ित है तो उसे दुनिया में अपना कोई सहारा नहीं दिखा और वह 25 साल जेल वापस लौट आया। 

Todays Beets: