Wednesday, September 19, 2018

Breaking News

   ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के पूर्व जीएम के ठिकानों पर आयकर के छापे     ||   बिहार: पूर्व मंत्री मदन मोहन झा बनाए गए प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष। सांसद अखिलेश सिंह बनाए गए अभियान समिति के अध्यक्ष। कौकब कादिरी समेत चार बनाए गए कार्यकारी अध्यक्ष।     ||   कर्नाटक के मंत्री शिवकुमार के खिलाफ ED ने मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया    ||   सीतापुर में श्रद्धालुओें से भरी बस खाई में पलटी 26 घायल, 5 की हालत गंभीर     ||   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||

दुबई के गैराज में काम करने वाले भारतीय बने करोड़पति, ड्यूटी फ्री मिलेनियम मिलिनेयर ड्राॅ में नाम का हुआ ऐलान

अंग्वाल न्यूज डेस्क
दुबई के गैराज में काम करने वाले भारतीय बने करोड़पति, ड्यूटी फ्री मिलेनियम मिलिनेयर ड्राॅ में नाम का हुआ ऐलान

नई दिल्ली। आपने यह तो सुना ही होगा कि ‘ऊपर वाला जब भी देता है देता छप्पड़ फाड़ के’। यह बात संयुक्त अरब अमीरात में एक गैराज में काम करने वाले भारत के इस नौजवान पर बिल्कुल सही बैठती है। केरल के रहने वाले इस शख्स ने दुबई के एयरपोर्ट पर ड्यूटी फ्री मिलेनियम मिलिनेयर ड्रा में 10 लाख डॉलर (करीब 6.5 करोड़ रुपये) की रकम जीती है। गल्फ न्यूज की रिपोर्ट में बताया गया कि इस युगल ने जो टिकट खरीदी थी, उसे दुबई अंतरार्ष्ट्रीय हवाई अड्डे पर मंगलवार को हुए ड्रॉ में विजेता के रूप में चुना गया है।

गौरतलब है कि केरल के रहने वाले थोमन्ना शारजाह के एक आॅटोमोटिव गैराज में काम करते हैं अब उन्हें जीती गई रकम को सेबेस्टियन के साथ साझा करना पड़ेगा क्योंकि दोनों ने मिलकर इस लाॅटरी को खरीदा था। यहां बता दें कि सेबेस्टियन ने 5 बार इस लाॅटरी को खरीदा था और हर बार घर पहुंचने के बाद अपनी मां से कहते थे कि उन्होंने लाॅटरी जीत ली है। थोमन्ना ने कहा, “इस विस्मयकारी जीत के लिए दुबई ड्यूटी फ्री को धन्यवाद। यह निश्चित रूप से हम दोनों को लंबे समय तक काम आएगा।”


ये भी पढ़ें - दुबई में धोखाधड़ी के मामले में फंसे 2 भारतीय, कोर्ट ने सुनाई 500 साल की सजा

दोनों दोस्तों ने अभी तक यह फैसला नहीं लिया है कि वे इस इनामी राशि का किस तरह से उपयोग करेंगे। यहां बता दें कि अक्सर ऐसा देखा जाता है कि बड़ी रकम जीतने के बाद लोग नौकरी छोड़ देते हैं लेकिन इन दोनों दोस्तों ने दुबई में नौकरी जारी रखने का फैसला लिया है और फिलहाल इनका भारत लौटने का कोई इरादा नहीं है।  

Todays Beets: