Thursday, January 18, 2018

Breaking News

   98 साल की उम्र में MA करने वाले राज कुमार का संदेश, कहा-हमेशा कोशिश करते रहें     ||   मुंबई स्टॉक एक्सचेंज ने पार किया 34000 का आंकड़ा, ऑफिस में जश्न का माहौल     ||   पं. बंगाल: मालदा से 2 लाख रुपये के फर्जी नोट बरामद, एक गिरफ्तार    ||   सेक्स रैकेट का भंड़ाभोड़: दिल्ली की लेडी डॉन सोनू पंजाबन अरेस्ट    ||   रूपाणी कैबिनेट: पाटीदारों का दबदबा, 1 महिला को भी मंत्रिमंडल में मिली जगह    ||   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद    ||   RTI में खुलासा- भगत सिंह-राजगुरु-सुखदेव को अब तक नहीं मिला शहीद का दर्जा, सरकारी किताब में बताया गया 'आतंकी'     ||    गुजरात चुनाव: रैली में बोले BJP नेता- दाढ़ी-टोपी वालों को कम करना पड़ेगा, डराने आया हूं ताकि वो आंख न उठा सकें    ||   मध्य प्रदेश: बाबरी विध्वंस पर जुलूस निकाल रहे विहिप-बजरंग दल कार्यकर्ता पर पथराव, भड़क गई हिंसा    ||   बैंक अकाउंट को आधार से जोड़ने की तारीख बढ़ी, जानिए क्या है नई तारीख    ||

सऊदी अरब रोबोट को नारिकता देने वाला पहला देश बना, रोजमर्रा के कामों के साथ सवालों का भी देगी जवाब

अंग्वाल न्यूज डेस्क
सऊदी अरब रोबोट को नारिकता देने वाला पहला देश बना, रोजमर्रा के कामों के साथ सवालों का भी देगी जवाब

नई दिल्ली। अभी तक तो आपने इंसानों को किसी देश द्वारा नागरिकता देने के बारे में सुना होगा लेकिन क्या आपने किसी मशीन या रोबोट को नागरिकता देने के विषय में शायद ही सुना होगा। सऊदी अरब में एक महिला रोबोट ‘सोफिया’ को वहां की नागरिकता दी गई है। इस बात को लेकर वहां काफी चर्चा हो रही है।  ऐसा कहा जा रहा है कि जहां महिलाओं को बिना बुर्के के सड़कों पर निकलने पर पाबंदी है ऐसे में इस मशीन को खुलेआम बातें करते देखना दिलचस्प होगा। 

सवालों के जवाब भी देगा

गौरतलब है कि यह बात तो काफी समय से कही जा रही है कि आने वाला समय मशीनों का युग होगा और इंसानों के ज्यादातर काम मशीनों के द्वारा ही होंगे। ऐसे में सऊदी अरब जैसे देश में एक रोबोट को वहां की नागरिकता देना उसके उदारवाद की तरफ बढ़ने के तौर पर देखा जा रहा है। यहां बता दें कि सोफिया न सिर्फ आपके रोजमर्रा के कामों में हाथ बटाएगी बल्कि आपको मुश्किल सवालों के जवाब भी देगी। 


हवा में उड़ने का अजीब कारनामा, कुर्सी में बैलून बांधकर 16 मील का किया सफर

सम्मेलन में हिस्सा लेगी

आपको बता दें कि सऊदी अरब ऐसा पहला देश है जिसने इंसानों द्वारा बनाए गए रोबोट को नागरिकता दी है। सऊदी अरब की संस्कृति और सूचना मंत्रालय ने इसे एक ऐतिहासिक कदम बताया है। यहां गौर करने वाली बात है कि टेस्ला के चेयरमेन पहले भी कह चुके हैं कि आने वाला समय तकनीक और मशीनों का होगा। सोफिया के बारे में सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस ने कहा कि सोफिया को इंसानों के बीच रहने के लायक बनाया गया है। रोबोट सोफिया को डेविड हैनसन ने बनाया है है जो हैनसन रोबोटिक्स के संस्थापक हैं और पहले डिज्नी के लिए काम कर चुके हैं। हैनसन रोबोटिक्स की ये रोबोट रियाद में हो रहे फ्यूचर इंनवेस्टमेंट नाम के एक सम्मेलन में स्पीकर के तौर पर हिस्सा लेने वाली है। यह देखना काफी मजेदार होगा कि एक रोबोट किस तरह से सम्मेलन को माॅडरेट करती है।

Todays Beets: