Saturday, August 19, 2017

Breaking News

   मच्छल में घुसपैठ नाकाम, पांच आतंकी ढेर, भारी मात्रा में गोलाबारूद बरामद    ||   जापान के बाद अब अमेरिका के साथ युद्धाभ्यास की तैयारी में भारत    ||   SC में आर्टिकल 370 को हटाने के लिए याचिका दायर, कोर्ट ने दिया केंद्र को नोटिस    ||   राज्यसभा में सिब्बल बोले- छप रहे 1 नंबर के दो नोट, सदी का सबसे बड़ा घोटाला    ||   नीतीश सरकार के मंत्रिमंडल का आज होगा विस्तार, शपथ ले सकते हैं 16 मंत्री    ||   सपा को तगड़ा झटका, बुक्कल नवाब समेत 2 MLC का इस्तीफा, की मोदी-योगी की तारीफ    ||   नगालैंड: शुरहोजेली ने विश्वासमत से पहले ही मानी हार, ज़ेलियांग ने ली CM पद की शपथ    ||   बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने कहा- पार्टी कहेगी तो दे दूंगा इस्तीफा    ||   डोकलाम विवाद: भारतीय सीमा के पास खूब हथियार जमा कर रहा है चीन!    ||   रवि शास्त्री की चाहत- सचिन को मिले भारतीय बल्लेबाजी का जिम्मा    ||

विमान बना डिलीवरी रूम, महिला ने 39000 फीट की ऊंचाई पर दिया बच्चे को जन्म

अंग्वाल न्यूज डेस्क
विमान बना डिलीवरी रूम, महिला ने 39000 फीट की ऊंचाई पर दिया बच्चे को जन्म

बोगोटा।

हजारों फीट की ऊंचाई पर हवाई सफर के दौरान एक महिला द्वारा बच्‍चे को जन्‍म देने का मामला सामने आया है। घटना बुधवार की है। लुफ्थांसा का एक विमान उड़ान एलएच 543 कोलंबिया के बोगोटा से जर्मनी के फ्रैंकफर्ट जा रहा था, तभी बीच रास्‍ते में डेस्स्लावा के नामक गर्भवती महिला को प्रसव पीड़ा होने लगी।

जानकारी के अनुसार, जिस समय महिला को प्रसव पीड़ा शुरू हुई, उस वक्त विमान 39 हजार फुट की ऊंचाई पर था। महिला को दर्द शुरू होते ही विमान के पिछले हिस्से को अस्थायी डिलीवरी रूम में तब्‍दील करना पड़ा और केबिन-क्रू व यात्रियों में मौजूद तीन डॉक्टरों की मदद से बिना किसी परेशानी के बच्चे का जन्म हुआ। बच्चे का नाम निकोलाई रखा गया है, जो तीन में से एक डॉक्टर का नाम था। लुफ्थांसा ने ट्वीट कर क्रू-मेंबर्स के साथ बच्‍चे की तस्‍वीर शेयर की।

सुरक्षित प्रसव के बाद विमान को रास्ते में मैनचैस्टर में उतारकर जच्चा और बच्चा को पैरा मेडिकल कर्मचारियों की देखरेख में सौंप दिया गया। विमान में 191 यात्री और चालक दल के 13 सदस्य शामिल थे।     

विमान के मुख्य पायलट कुर्ट मेयर ने बताया कि अपने 37 साल के कॅरियर में उन्होंने पहले कभी इस तरह का अनुभव नहीं किया। यह जबरदस्त टीमवर्क था जिसमें सभी ने अपनी भूमिका बखूबी निभायी। उन्होंने कहा मेरे अपने बेटे के जन्म के बाद यह मेरी जिंदगी का सबसे भावुक क्षण था।

Todays Beets: