Thursday, October 18, 2018

Breaking News

   सेना हर चुनौती से न‍िपटने के ल‍िए तैयार, सर्जिकल स्ट्राइक भी व‍िकल्‍प: रणबीर सिंह    ||   BJP विधायक मानवेंद्र ने बदला पाला, राज्यवर्धन बोले- कांग्रेस ने 70 साल में मंत्री नहीं बनाया    ||   सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर छिड़ी जंग, हिरासत में 30 प्रदर्शनकारी    ||   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||   केरलः अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद ने सबरीमाला फैसले के खिलाफ HC में लगाई याचिका    ||   कोलकाताः HC ने दुर्गा पूजा आयोजकों को ममता के 28 करोड़ देने के फैसले पर रोक लगाई    ||    रूस के साथ S-400 एयर डिफेंस मिसाइल पर भारत की डील    ||   नार्वेः राजधानी ओस्लो में आज होगा शांति के नोबेल पुरस्कार का ऐलान    ||   अंकित सक्सेना मर्डर केसः ट्रायल के लिए अभियोगपक्ष के 2 वकीलों की नियुक्ति    ||   जम्मू कश्मीर में नेशनल कॉफ्रेंस के दो कार्यकर्ताओं की गोली मारकर हत्या, मरने वालों में एक MLA का पीए भी     ||

विमान बना डिलीवरी रूम, महिला ने 39000 फीट की ऊंचाई पर दिया बच्चे को जन्म

अंग्वाल न्यूज डेस्क
विमान बना डिलीवरी रूम, महिला ने 39000 फीट की ऊंचाई पर दिया बच्चे को जन्म

बोगोटा।

हजारों फीट की ऊंचाई पर हवाई सफर के दौरान एक महिला द्वारा बच्‍चे को जन्‍म देने का मामला सामने आया है। घटना बुधवार की है। लुफ्थांसा का एक विमान उड़ान एलएच 543 कोलंबिया के बोगोटा से जर्मनी के फ्रैंकफर्ट जा रहा था, तभी बीच रास्‍ते में डेस्स्लावा के नामक गर्भवती महिला को प्रसव पीड़ा होने लगी।

जानकारी के अनुसार, जिस समय महिला को प्रसव पीड़ा शुरू हुई, उस वक्त विमान 39 हजार फुट की ऊंचाई पर था। महिला को दर्द शुरू होते ही विमान के पिछले हिस्से को अस्थायी डिलीवरी रूम में तब्‍दील करना पड़ा और केबिन-क्रू व यात्रियों में मौजूद तीन डॉक्टरों की मदद से बिना किसी परेशानी के बच्चे का जन्म हुआ। बच्चे का नाम निकोलाई रखा गया है, जो तीन में से एक डॉक्टर का नाम था। लुफ्थांसा ने ट्वीट कर क्रू-मेंबर्स के साथ बच्‍चे की तस्‍वीर शेयर की।

सुरक्षित प्रसव के बाद विमान को रास्ते में मैनचैस्टर में उतारकर जच्चा और बच्चा को पैरा मेडिकल कर्मचारियों की देखरेख में सौंप दिया गया। विमान में 191 यात्री और चालक दल के 13 सदस्य शामिल थे।     

विमान के मुख्य पायलट कुर्ट मेयर ने बताया कि अपने 37 साल के कॅरियर में उन्होंने पहले कभी इस तरह का अनुभव नहीं किया। यह जबरदस्त टीमवर्क था जिसमें सभी ने अपनी भूमिका बखूबी निभायी। उन्होंने कहा मेरे अपने बेटे के जन्म के बाद यह मेरी जिंदगी का सबसे भावुक क्षण था।

Todays Beets: