Thursday, November 23, 2017

Breaking News

   मैदान पर विराट के आक्रामक रवैये पर राहुल द्रविड़ को सताई चिंता     ||   अजहर को अंतर्राष्ट्रीय आतंकी घोषित नहीं करेगा चीन, प्रस्ताव पर रोक लगाने के संकेत     ||   दुनिया की सबसे लंबी सुरंग बनाकर चीन अब ब्रह्मपुुत्र नदी का पानी रोकने का बना रहा है प्लान     ||   पीएम मोदी को शीला दीक्षित ने दिया जवाब- हमने नहीं भुलाया पटेल का योगदान    ||   पटना पहुंचे मोहन भागवत, यज्ञ में भाग लेने जाएंगे आरा, नीतीश भी जाएंगे    ||   अखिलेश को आया चाचा शिवपाल का फोन, कहा- आप अध्यक्ष हैं आपको बधाई    ||   अमेरिका में सभी श्रेणियों में H-1B वीजा के लिए आवश्यक कार्रवाई बहाल    ||   रोहिंग्या पर किया वीडियो पोस्ट, म्यांमार की ब्यूटी क्वीन का ताज छिना    ||   अब गेस्ट टीचरों को लेकर CM केजरीवाल और LG में ठनी    ||   केरल में अमित शाह के बाद योगी की पदयात्रा, राजनीतिक हत्याओं पर लेफ्ट को घेरने की रणनीति    ||

विमान बना डिलीवरी रूम, महिला ने 39000 फीट की ऊंचाई पर दिया बच्चे को जन्म

अंग्वाल न्यूज डेस्क
विमान बना डिलीवरी रूम, महिला ने 39000 फीट की ऊंचाई पर दिया बच्चे को जन्म

बोगोटा।

हजारों फीट की ऊंचाई पर हवाई सफर के दौरान एक महिला द्वारा बच्‍चे को जन्‍म देने का मामला सामने आया है। घटना बुधवार की है। लुफ्थांसा का एक विमान उड़ान एलएच 543 कोलंबिया के बोगोटा से जर्मनी के फ्रैंकफर्ट जा रहा था, तभी बीच रास्‍ते में डेस्स्लावा के नामक गर्भवती महिला को प्रसव पीड़ा होने लगी।

जानकारी के अनुसार, जिस समय महिला को प्रसव पीड़ा शुरू हुई, उस वक्त विमान 39 हजार फुट की ऊंचाई पर था। महिला को दर्द शुरू होते ही विमान के पिछले हिस्से को अस्थायी डिलीवरी रूम में तब्‍दील करना पड़ा और केबिन-क्रू व यात्रियों में मौजूद तीन डॉक्टरों की मदद से बिना किसी परेशानी के बच्चे का जन्म हुआ। बच्चे का नाम निकोलाई रखा गया है, जो तीन में से एक डॉक्टर का नाम था। लुफ्थांसा ने ट्वीट कर क्रू-मेंबर्स के साथ बच्‍चे की तस्‍वीर शेयर की।

सुरक्षित प्रसव के बाद विमान को रास्ते में मैनचैस्टर में उतारकर जच्चा और बच्चा को पैरा मेडिकल कर्मचारियों की देखरेख में सौंप दिया गया। विमान में 191 यात्री और चालक दल के 13 सदस्य शामिल थे।     

विमान के मुख्य पायलट कुर्ट मेयर ने बताया कि अपने 37 साल के कॅरियर में उन्होंने पहले कभी इस तरह का अनुभव नहीं किया। यह जबरदस्त टीमवर्क था जिसमें सभी ने अपनी भूमिका बखूबी निभायी। उन्होंने कहा मेरे अपने बेटे के जन्म के बाद यह मेरी जिंदगी का सबसे भावुक क्षण था।

Todays Beets: