Wednesday, August 15, 2018

Breaking News

   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||

अब से एक ही दिन में होगी 10वीं और 12वीं की पीक्षाएं, CBSE ने किए बड़े बदलाव

अंग्वाल संवाददाता
अब से एक ही दिन में होगी 10वीं और 12वीं की पीक्षाएं, CBSE ने किए बड़े बदलाव

नई दिल्ली। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड यानी CBSE अब 10 वीं और 12वीं की परीक्षाओं को एक साथ आयोजित करने की योजना बना रहा है। सीबीएसई के अनुसार इन दोनों कक्षाओं की परीक्षाएं दो शिफ्ट में कराई जाएंगी। इससे एग्जाम पीरियड कम होंगे और टीचर्स को परीक्षा की कांपियां चैक करने के लिए भी अधिक समय मिल पाएगा। यह योजना बड़े शहरों के कुछ टॉप स्कूलों के प्रिंसिपलों ने मिलकर तय की है। पूरे देश में सीबीएसई की 18 हजार से ज्यादा संस्थाएं हैं, जो दोनों परीक्षाओं का आयोजन मार्च के महीने में करती हैं। वहीं दूसरी ओर कई राज्यों में विधानसभा चुनावों के कारण परीक्षाएं देरी से शुरू हुई थी। ये परीक्षाएं अलग-अलग टाइम टेबल होने के कारण करीब 45 दिनों तक चलती हैं।

आपको बता दें कि अब इस नई योजना के अनुसार 10वीं और 12वीं की परिक्षाएं 1 तारीख से शुरू की जाएंगी। जिसमें 12वीं की परीक्षाएं सुबह की शिफ्ट में और 10 वीं की परीक्षाएं दोपहर की शिफ्ट में आयोजित कराई जाएगी। इससे पहले सीबीएसई दोपहर में परीक्षाएं आयोजित नहीं किया करती थी।


सीबीएसई के अनुसार इस नई योजना के लागू होने से स्कूल शिक्षकों को कॉपियां चैक करने के लिए अधिक समय मिलेगा। इससे तय समय में मई महीने तक ही परिणामों को घोषित करने में आसानी होगी। इस बार करीब 10 लाख छात्राओं ने 12 वीं की परीक्षाएं दी थी।

Todays Beets: