Thursday, October 18, 2018

Breaking News

   सेना हर चुनौती से न‍िपटने के ल‍िए तैयार, सर्जिकल स्ट्राइक भी व‍िकल्‍प: रणबीर सिंह    ||   BJP विधायक मानवेंद्र ने बदला पाला, राज्यवर्धन बोले- कांग्रेस ने 70 साल में मंत्री नहीं बनाया    ||   सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर छिड़ी जंग, हिरासत में 30 प्रदर्शनकारी    ||   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||   केरलः अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद ने सबरीमाला फैसले के खिलाफ HC में लगाई याचिका    ||   कोलकाताः HC ने दुर्गा पूजा आयोजकों को ममता के 28 करोड़ देने के फैसले पर रोक लगाई    ||    रूस के साथ S-400 एयर डिफेंस मिसाइल पर भारत की डील    ||   नार्वेः राजधानी ओस्लो में आज होगा शांति के नोबेल पुरस्कार का ऐलान    ||   अंकित सक्सेना मर्डर केसः ट्रायल के लिए अभियोगपक्ष के 2 वकीलों की नियुक्ति    ||   जम्मू कश्मीर में नेशनल कॉफ्रेंस के दो कार्यकर्ताओं की गोली मारकर हत्या, मरने वालों में एक MLA का पीए भी     ||

इग्नू शुरू करने जा रहा है रोजगारपरक कोर्स, जानें कहां और कैसे ले सकते हैं दाखिला

अंग्वाल न्यूज डेस्क
इग्नू शुरू करने जा रहा है रोजगारपरक कोर्स, जानें कहां और कैसे ले सकते हैं दाखिला

नई दिल्ली। इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी (इग्नू) ने एक नए पीजी कोर्स की शुरुआत की है। इग्नू के स्कूल आॅफ हेल्थ साइंस ने जुलाई 2018 से एक्यूपंक्चर (पीजीसीएसीपी) में पीजी सर्टिफिकेट प्रोग्राम लॉन्च किया है। एक्यूपंक्चर चिकित्सा की एक नई पद्धति है जो रोगियों की पुरानी बीमारी को ठीक करने के काम आएगी। इस कोर्स को ऑफलाइन ओपन एंड डिस्टेंस लर्निंग (ओडीएल) मोड और हार्ड कॉपी के रूप में छात्रों के सामने पेश किया जाएगा।

किन लोगों के लिए उपलब्ध है ये कोर्स

यहां यह जानना जरूरी है कि कौन लोग इस कोर्स को कर सकते हैं। भारत सरकार के स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के निर्देशों के अनुसार जिन छात्रों ने एलोपैथी, आयुर्वेद, योग और प्राकृतिक चिकित्सा, यूनानी, सिद्ध, होम्योपैथी, दंत चिकित्सा और फिजियोथेरेपी से स्नातक कर लिया है वहीं इसके लिए आवेदन कर सकते हैं। 

मुख्य जानकारी

- आवेदन पत्र IGNOU की ऑफिशियल वेबसाइट ignou.ac.in पर उपलब्ध हैं।

- आवेदन करने की अंतिम तिथि 16 अगस्त है।

- वैसे तो नया सत्र जुलाई 2018 से शुरू होता है पर जो स्टूडेंट्स अभी यह कोर्स नहीं कर सकते वे जनवरी 2019 में नए सत्र में कर सकते हैं।

- यह कोर्स भारत के चुने हुए 9 केंद्रों में पेश किया जाएगा। 

- दिल्ली, हुबली (कर्नाटक), 

-नासिक (महाराष्ट्र), 


-इंदौर (मध्य प्रदेश), 

-कोटा (राजस्थान), 

-चेन्नई (तमिलनाडु), 

-राउरकेला (उड़ीसा), 

-लुधियाना (पंजाब) और 

-कोलकाता (पश्चिम बंगाल)।

छात्रों को इन केंद्रों में से किसी एक को चुनना होगा।

 

 

Todays Beets: