Tuesday, February 19, 2019

Breaking News

   महाराष्ट्रः ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा चलाई गई शकुंतला नैरो गेज ट्रेन में लगी आग     ||   केरलः दक्षिण पश्चिम तट से अवैध तरीके से भारत में घुसते 3 लोग गिरफ्तार     ||   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||

उत्तरप्रदेश में शिक्षा को बेहतर बनाने की कवायद तेज, 14 हजार से ज्यादा शिक्षकों की होगी भर्ती

अंग्वाल न्यूज डेस्क
उत्तरप्रदेश में शिक्षा को बेहतर बनाने की कवायद तेज, 14 हजार से ज्यादा शिक्षकों की होगी भर्ती

लखनऊ। उत्तरप्रदेश सरकार जल्द ही नौजवानों को नौकरी के बड़े मौके देने जा रही है। प्रदेश में करीब 14 हजार से ज्यादा पदों पर शिक्षकों की भर्ती होने वाली है। इसकी जानकारी खुद उपमुख्यमंत्री डाॅक्टर दिनेश शर्मा ने दी है। उन्होंने बताया कि सरकार से सहायता प्राप्त माध्यमिक स्कूलों में करीब 11000 से ज्यादा पदों पर सहायक शिक्षकों की भर्ती होगी और 2100 प्रवक्ता के पदों पर भर्ती की जाएगी। 

गौरतलब है कि ये सभी भर्तियां माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन आयोग के द्वारा की जाएंगी। उपमुख्यमंत्री ने बताया कि आयोग का भी जल्द ही पुनर्गठन किया जाएगा।  आयोग के पुनर्गठन के बाद शिक्षकों की भर्ती की प्रक्रिया जल्द ही शुरू कर दी जाएगी।

ये भी पढ़ें -  सुप्रीम कोर्ट ने कहा-संयुक्त स्नातक और उच्चतर माध्यमिक स्तर परीक्षा 2017 में हुई गड़बड़ी, परिणा...


यहां बता दें कि आयोग के माध्यम से प्रवक्ता के 1344 और सहायक अध्यापक के 7950 पदों पर भर्ती की जा रही है।  इसके अलावा लोकसेवा आयोग के माध्यम से राजकीय इंटर कॉलेजों के लिए 14,562 शिक्षकों पदों पर भर्ती की जा रही है। इनमें 3794 पद प्रवक्ता के हैं और 10,768 पद सहायक अध्यापक के हैं। इन पदों के लिए लिखित परीक्षा हो चुकी है और बस अब उनके परिणाम आना बाकी है। परिणाम आते ही इन सभी को नियुक्ति पत्र प्रदान कर दिया जाएगा और जल्द ही ये बच्चों को ज्ञान देना शुरू कर देंगे। गौर करने वाली बात है कि उपमुख्यमंत्री डाॅक्टर दिनेश शर्मा ने कहा कि शिक्षा सेवा चयन आयोग के गठन के बाद प्रदेश के स्कूलों में शिक्षकों की कमी दूर हो जाएगी।

 

Todays Beets: