Wednesday, August 23, 2017

Breaking News

   मच्छल में घुसपैठ नाकाम, पांच आतंकी ढेर, भारी मात्रा में गोलाबारूद बरामद    ||   जापान के बाद अब अमेरिका के साथ युद्धाभ्यास की तैयारी में भारत    ||   SC में आर्टिकल 370 को हटाने के लिए याचिका दायर, कोर्ट ने दिया केंद्र को नोटिस    ||   राज्यसभा में सिब्बल बोले- छप रहे 1 नंबर के दो नोट, सदी का सबसे बड़ा घोटाला    ||   नीतीश सरकार के मंत्रिमंडल का आज होगा विस्तार, शपथ ले सकते हैं 16 मंत्री    ||   सपा को तगड़ा झटका, बुक्कल नवाब समेत 2 MLC का इस्तीफा, की मोदी-योगी की तारीफ    ||   नगालैंड: शुरहोजेली ने विश्वासमत से पहले ही मानी हार, ज़ेलियांग ने ली CM पद की शपथ    ||   बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने कहा- पार्टी कहेगी तो दे दूंगा इस्तीफा    ||   डोकलाम विवाद: भारतीय सीमा के पास खूब हथियार जमा कर रहा है चीन!    ||   रवि शास्त्री की चाहत- सचिन को मिले भारतीय बल्लेबाजी का जिम्मा    ||

अब से एक ही दिन में होगी 10वीं और 12वीं की पीक्षाएं, CBSE ने किए बड़े बदलाव

अंग्वाल संवाददाता
अब से एक ही दिन में होगी 10वीं और 12वीं की पीक्षाएं, CBSE ने किए बड़े बदलाव

नई दिल्ली। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड यानी CBSE अब 10 वीं और 12वीं की परीक्षाओं को एक साथ आयोजित करने की योजना बना रहा है। सीबीएसई के अनुसार इन दोनों कक्षाओं की परीक्षाएं दो शिफ्ट में कराई जाएंगी। इससे एग्जाम पीरियड कम होंगे और टीचर्स को परीक्षा की कांपियां चैक करने के लिए भी अधिक समय मिल पाएगा। यह योजना बड़े शहरों के कुछ टॉप स्कूलों के प्रिंसिपलों ने मिलकर तय की है। पूरे देश में सीबीएसई की 18 हजार से ज्यादा संस्थाएं हैं, जो दोनों परीक्षाओं का आयोजन मार्च के महीने में करती हैं। वहीं दूसरी ओर कई राज्यों में विधानसभा चुनावों के कारण परीक्षाएं देरी से शुरू हुई थी। ये परीक्षाएं अलग-अलग टाइम टेबल होने के कारण करीब 45 दिनों तक चलती हैं।

आपको बता दें कि अब इस नई योजना के अनुसार 10वीं और 12वीं की परिक्षाएं 1 तारीख से शुरू की जाएंगी। जिसमें 12वीं की परीक्षाएं सुबह की शिफ्ट में और 10 वीं की परीक्षाएं दोपहर की शिफ्ट में आयोजित कराई जाएगी। इससे पहले सीबीएसई दोपहर में परीक्षाएं आयोजित नहीं किया करती थी।


सीबीएसई के अनुसार इस नई योजना के लागू होने से स्कूल शिक्षकों को कॉपियां चैक करने के लिए अधिक समय मिलेगा। इससे तय समय में मई महीने तक ही परिणामों को घोषित करने में आसानी होगी। इस बार करीब 10 लाख छात्राओं ने 12 वीं की परीक्षाएं दी थी।

Todays Beets: