Sunday, July 22, 2018

Breaking News

   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||   नीतीश का गठबंधन को जवाब कहा गठबंधन सिर्फ बिहार में है बाहर नहीं     ||   जापान में बारिश का कहर जारी 100 से ज्यादा लोगों की मौत     ||   PM मोदी के नोएडा दौरे से पहले लगा भारी जाम, पढ़ें पूरी ट्रैफिक एडवाइजरी     ||    नीतीश ने दिए संकेत: केवल बिहार में है भाजपा और जदयू का गठबंधन, राष्ट्रीय स्तर पर हम साथ नहीं    ||   निर्भया मामले में तीनों दोषियों को होगी फांसी, सुप्रीम कोर्ट ने याचिका ठुकराई    ||   उत्तर भारत में धूल: चंडीगढ़ में सुबह 11 बजे अंधेरा छाया, 26 उड़ानें रद्द; दिल्ली में भी धूल कायम     ||

दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले के बाद अब कल आएगा सीबीएसई की 12वीं का रिजल्ट

अंग्वाल न्यूज डेस्क
दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले के बाद अब कल आएगा सीबीएसई की 12वीं का रिजल्ट

नई दिल्ली । दिल्ली हाईकोर्ट के आदेशों के चलते सीबीएसई के 12वीं के नतीजे अब बुधवार को नहीं बल्कि गुरुवार को जारी होगा। दिल्ली हाईकोर्ट के आदेश के बाद यह एक दिन के लिए टाल दिया गया है। बता दें कि कोर्ट ने कोर्ट ने सीबीएसई को मुश्किल प्रश्नों के लिए ग्रेस मार्क्स देने संबंधी अपनी पॉलिसी को 2016-17 के सत्र में जारी रखने का अंतरिम आदेश जारी किया है।

ये भी पढ़ें- एनसीईआरटी की किताबों में अब नहीं पढ़ाया जाएगा गुजरात दंगों को मुस्लिम विरोधी

कोर्ट ने सीबीएसई द्वारा मॉडरेशन पालिसी वापस लेने संबधी फैसले खिलाफ दायर याचिका पर सुनवाई की थी। कोर्ट ने अपना फैसला सुनाते हुए कहा कि खेल शुरू होने के बाद खेल के नियम नहीं बदले जा सकते । इसी प्रकार जिन बच्चों ने आधी-आधी रात जागकर पढ़ाई की और परीक्षा की तैयारी की, उन्हें पता होना चाहिए कि सीबीएसई किस सिस्टम के तहत कैसे काम कर रहा है। 

ये भी पढ़ें- सीबीएसई ने बदला परीक्षा का प्रारूप, अगले साल से 10वीं में लिखित पेपर होगा 80 नंबर का

कोर्ट ने अपने फैसले में कहा कि बोर्ड इस साल मॉडरेशन पालिसी वापस नहीं ले सकता। ऐसा करके आप बच्चों के साथ खिलवाड़ भी नहीं कर सकते। पॉलिसी में बदलाव करने के चलते अगर कोई छात्र विदेशी यूनिवर्सिटी में दाखिला लेने से चूक गया तो उसके लिए यह सब किसी तबाही से कम नहीं होगा। कोर्ट ने कहा कि जिन बच्चों ने परीक्षा दी है, उन्हें परेशान न करें। 


ये भी पढ़ें- अब कक्षा पांच के बाद मानकों पर खरा न उतरने वाले छात्र होंगे फेल, मंत्रालय ने किया विधेयक तैयार

 

एक नजर यहां भी...

Todays Beets: