Tuesday, February 19, 2019

Breaking News

   महाराष्ट्रः ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा चलाई गई शकुंतला नैरो गेज ट्रेन में लगी आग     ||   केरलः दक्षिण पश्चिम तट से अवैध तरीके से भारत में घुसते 3 लोग गिरफ्तार     ||   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||

इंजीनियरिंग से पहले छात्रों को अंग्रेजी सिखाएगा यह काॅलेज, सप्ताहांत में लगेगी क्लास

अंग्वाल न्यूज डेस्क
इंजीनियरिंग से पहले छात्रों को अंग्रेजी सिखाएगा यह काॅलेज, सप्ताहांत में लगेगी क्लास

देहरादून। राज्य में इंजीनियरिंग करने आने वाले छात्रों को इंजीनियरिंग कोर्स से पहले अंग्रेजी सिखाई जाएगी। जी हां, पौड़ी-गढ़वाल में स्थित जीबी पंत इंजीनियरिंग काॅलेज अब इंजीनियरिंग करने आने वाले छात्र-छात्राओं को इंजीनियरिंग से पहले अंग्रेजी में निपुण करेगा। बता दें कि काॅलेज में दाखिला लेने वाले अधिकतर छात्र ग्रामीण परिवेश में आते हैं। ऐसे में उनकी अंग्रेजी काफी कमजोर होती है जिससे वे इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी नहीं कर पाते हैं। काॅलेज के छात्रों के परिणाम अच्छे हों इसी मकसद से यह कदम उठाया गया है। 

कोर्स काउंसलर का होगा चयन

गौरतलब है कि जीबी पंत इंजीनियरिंग काॅलेज में नए सत्र में दाखिला लेने वाले छात्र-छात्राओं को 6 महीने तक अंग्रेजी भाषा सिखाई जाएगी ताकि उनकी अंग्रेजी में अच्छी पकड़ बन सके। इसके लिए काॅलेज की ओर से कोर्स काउंसलर का चयन किया जाएगा। कोर्स काउंसलर हर शनिवार और रविवार को अलग क्लास लगाकर ऐसे छात्रों को अंग्रेजी सिखाएगा। इससे एक तो उनकी अंग्रेजी में सुधार होगा वहीं उनका व्यक्तिगत विकास भी होगा।

ये भी पढ़ें - प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम के तहत रोजगार देने में उत्तराखंड पूरे देश में अव्वल - हरीश रावत


खर्च काॅलेज वहन करेगा

काॅलेज के रजिस्ट्रार संदीप कुमार ने बताया कि अब तक देखा गया है कि शहरों के मुकाबले ग्रामीण छात्र-छात्राओं की अंग्रेजी कमजोर होती है। ऐसे में वे समय पर इंजीनियरिंग का कोर्स पूरा नहीं कर पाते हैं। अंग्रेजी में कमजोर होने के कारण उनका व्यक्तिगत विकास भी कम होता है, इसलिए यदि अंग्रेजी में कमजोर छात्रों को पहले ही अंग्रेजी भाषा का ज्ञान मिल जाए तो वह अन्य बच्चों की बराबरी कर अच्छे परिणाम हासिल कर सकते हैं। उन्होंने बताया कि काॅलेज फंड से ही ऐसे छात्रों को कोर्स करवाया जाएगा। 

Todays Beets: