Tuesday, February 19, 2019

Breaking News

   महाराष्ट्रः ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा चलाई गई शकुंतला नैरो गेज ट्रेन में लगी आग     ||   केरलः दक्षिण पश्चिम तट से अवैध तरीके से भारत में घुसते 3 लोग गिरफ्तार     ||   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||

प्राईवेट स्कूलों को खाली सीटों की जानकारी पब्लिक करने का दिया गया आदेश

अंग्वाल संवाददाता
प्राईवेट स्कूलों को खाली सीटों की जानकारी पब्लिक करने का दिया गया आदेश

नई दिल्ली। दिल्ली सरकार ने प्राईवेट स्कूलों को एक नोटिस जारी कर निर्देश दिए है। निर्देशों में सरकार ने स्कूलों से खाली पड़ी सीटों की जानकारी पब्लिक करने के लिए कहा है। साथ ही सरकार ने आरक्षित वर्ग की सीटों की जानकारी भी पब्लिक किए जाने के लिए कहा है। यह कदम ईडब्लयूएस केटेगरी के बच्चों को एडमिशन दिलाने और सीटों की सही जानकारी होने के लिए उठाया गया है। डायरेक्टर ऑफ एजुकेशन ने यह नोटिस जारी कर स्कूलों से कहा है कि वह खाली सीटों से जुडी अहम जानकारी हिंदी और अग्रेंजी में नोटिस बोर्ड पर लगाएं और बोर्ड ऐसी जगह होना चाहिए जहां से आम लोगों को असानी से यह जानकारी मिल सके।

यह भी पढ़े- अध्ययन में सामने आया है कि कार्यस्थल पर बेहतर माहौल बनाने के लिए भरोसा है सबसे जरुरी

शिक्षा विभाग के एक अधिकारी ने कहा, ये ऑर्डर कोर्ट के आदेश के बाद जारी किया गया है। अब हम ईडब्ल्यूएस केटेगरी के लिए ऑनलाइन एडमिशन ले रहें हैं। इसलिए कुछ स्कूलों को लगा कि वे ये सूचना अब केवल ऑनलाइन ही अपडेट करेंगे पर कई गरीब लोग इंटरनेट पर इन सीटों की जानकारी प्राप्त नहीं कर सकते हैं। ऐसे में वह इस सूचना से वंचित रह जाते हैं। ये ऑर्डर सुनिश्चित करेगा कि नोटिस बोर्ड पर सभी सूचनाएं सार्वजनिक हों।


यह भी पढ़े- NCERT  से छात्रों को मिली राहत, अब नहीं बढ़ाई जाएंगी किताबों की कीमतें

इतना ही नहीं दिल्ली सरकार के अधिकारी समय- समय पर स्कूलों में जाएंगे और इन सूचनाओं की जांच पड़ताल भी करेंगे।   

Todays Beets: