Wednesday, June 20, 2018

Breaking News

   उत्तर भारत में धूल: चंडीगढ़ में सुबह 11 बजे अंधेरा छाया, 26 उड़ानें रद्द; दिल्ली में भी धूल कायम     ||   टेस्ट में भारत की सबसे बड़ी जीत: अफगानिस्तान को एक दिन में 2 बार ऑलआउट किया, डेब्यू टेस्ट 2 दिन में खत्म     ||   पेशावर स्कूल हमले का मास्टरमाइंड और मलाला पर गोली चलवाने वाला आतंकी फजलुल्लाह मारा गया: रिपोर्ट     ||   कानपुर जहरीली शराब मामले में 5अधिकारी निलंबित     ||   अब जल्द ही बिना नेटवर्क भी कर सकेंगे कॉल, बस Wi-Fi की होगी जरुरत     ||   मौलाना मदनी ने भी की एएमयू से जिन्‍ना की तस्‍वीर हटाने की वकालत     ||   भारत-चीन सेना के बीच हॉटलाइन की तैयारी, LoC पर तनाव होगा दूर     ||   कसौली में धारा 144 लागू, आरोपित पुलिस की गिरफ्त से बाहर     ||   स्कूली बच्चों पर पत्थरबाजी से भड़के उमर अब्दुल्ला, कहा- ये गुंडों जैसी हरकत     ||   थर्ड फ्रंट: ममता, कनिमोझी....और अब केसीआर की एसपी चीफ अखिलेश यादव के साथ बैठक     ||

अगर आप घूमने के हैं शौकीन तो वानिकी में बना सकते हैं अपना करियर

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अगर आप घूमने के हैं शौकीन तो वानिकी में बना सकते हैं अपना करियर

नई दिल्ली। अगर आपको घूमना और रोमांच पसंद है तो फाॅरेस्ट्री (वानिकी) मंे करियर बनाना एक अच्छा विकल्प हो सकता है। वन संपदा हमारी विरासत है इसके बिना धरती पर जीवन मुमकिन नहीं है। साथ ही जैव संपदा को भी बरकरार रखने में काफी सहायक होते हैं। इस क्षेत्र से जुड़कर छात्र वनों की सुरक्षा और उसके विकास में अहम भूमिका अदा कर सकते हैं। इससे छात्र कैसे जुड़ सकते हैं इसके बारे में हम आपको बताते हैं। 

गौरतलब है कि जंगलों का प्रबंधन और उसकी देखरेख के लिए पेशेवर लोगों की जरूरत है। इन पर देश की प्राकृतिक संपदा और धरोहरों को बचाने की जिम्मेदारी होती है। इसमें वन्यजीवों की सुरक्षा भी एक बड़ी विशेषता रहती है। फाॅरेस्ट्री एक  ऐसा विज्ञान है जिसमें जंगलों के विकास और उसकी देखरेख के बारे में सिखाया जाता है। फाॅरेस्ट्री का कोर्स करने के बाद आपको दुनिया के बेहतरीन क्षेत्रों में जाने का मौका मिल सकता है और प्रकृति को करीब से जानने का मौका मिलेगा। 

चुनौतियों से भरपूर करियर

फाॅरेस्ट्री का नाम सुनने के बाद आपको बेशक लगेगा कि काम बेहद आसान है, सिर्फ जंगलों में घूमना है। ऐसा नहीं है इस क्षेत्र में हर कदम पर चुनौतियां हैं। वन्यजीवों की सुरक्षा से लेकर यहां पेशेवरों पर पौधों को लगाने की भी जिम्मेदारी होती है। इस क्षेत्र में कोर्स करने के बाद आप वन और वन्यजीवों के बारे में बेहतर तरीके से जान सकेंगे। 

शैक्षणिक योग्यता-

फॉरेस्ट्री में करियर बनाने के लिए छात्रों को विज्ञान विषयों के साथ 12वीं पास होना जरूरी है, तभी बीएससी में प्रवेश मिल सकता है। बीएससी के बाद एमएससी में आसानी से प्रवेश मिल सकता है। कई संस्थानों में पीजी डिप्लोमा इन फॉरेस्ट मैनेजमेंट का कोर्स भी उपलब्ध है। 

ये हैं कुछ प्रमुख कोर्स 

बीएससी इन फॉरेस्ट्री 

एमएससी इन फॉरेस्ट्री

बीएससी इन वाइल्ड लाइफ 

एमएससी इन वाइल्ड लाइफ 

एमएससी इन वुड साइंस एंड टेक्नोलॉजी


पीजी डिप्लोमा इन फॉरेस्ट मैनेजमेंट 

एमफिल इन फॉरेस्ट्री 

पीएचडी इन फॉरेस्ट्री 

रोजगार की संभावनाएं

फाॅरेस्ट्री के क्षेत्र में कोर्स करने के बाद रोजगार की भी काफी संभावनाएं हैं। कोर्स करने के बाद सरकारी एवं प्राइवेट क्षेत्रों के अलावा एनजीओ में भी काम करने के अवसर हैं। यदि आपकी दिलचस्पी शोध के क्षेत्र में है तो इंडियन काउंसिल ऑफ फॉरेस्ट्री रिसर्च एंड एजुकेशन जैसे संस्थान से जुड़ने का मौका मिल सकता है।  इसके अलावा वाइल्ड लाइफ रेंज मैनेजर, वाइल्ड लाइफ रेफ्यूज मैनेजर, रिसर्चर, वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफर, जर्नलिस्ट और टीचर के रूप में अपना करियर बना सकते हैं। इन सबके साथ आप बीबीसी और डिस्कवरी के लिए डाॅक्यूमेंट्री भी बना सकते हैं। 

यहां से कर सकते हैं कोर्स-

वन अनुसंधान संस्थान, देहरादूनवेबसाइट  http://fri.icfre.gov.in/

बिरसा एग्रीकल्चरल यूनिवर्सिटी, रांचीवेबसाइट http://www.bauranchi.org

जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, जबलपुरवेबसाइट  http://www.jnkvv.org/

ओडिशा यूनिवर्सिटी ऑफ एग्रीकल्चर एंड टेक्नोलॉजीवेबसाइट  http://www.ouat.nic.in/

नेचर कंजर्वेशन फाउंडेशनवेबसाइट  http://ncf&india.org

डॉ. वाईएस परमार यूनिवर्सिटी ऑफ हॉर्टिकल्चर एंड फॉरेस्ट्रीवेबसाइट  http://www.yspuniversity.ac.in 

Todays Beets: