Thursday, December 14, 2017

Breaking News

   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद    ||   RTI में खुलासा- भगत सिंह-राजगुरु-सुखदेव को अब तक नहीं मिला शहीद का दर्जा, सरकारी किताब में बताया गया 'आतंकी'     ||    गुजरात चुनाव: रैली में बोले BJP नेता- दाढ़ी-टोपी वालों को कम करना पड़ेगा, डराने आया हूं ताकि वो आंख न उठा सकें    ||   मध्य प्रदेश: बाबरी विध्वंस पर जुलूस निकाल रहे विहिप-बजरंग दल कार्यकर्ता पर पथराव, भड़क गई हिंसा    ||   बैंक अकाउंट को आधार से जोड़ने की तारीख बढ़ी, जानिए क्या है नई तारीख    ||   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद     ||   अश्विन ने लगाया विकेटों का सबसे तेज 'तिहरा शतक', लिली को छोड़ा पीछे     ||   पूरा हुआ सपना चौधरी का 'सपना', बेघर होने के साथ बॉलीवुड से मिला बड़ा ऑफर    ||   PAK सरकार ने शर्तें मानीं, प्रदर्शन खत्म करने कानून मंत्री को देना पड़ा इस्तीफा    ||   मैदान पर विराट के आक्रामक रवैये पर राहुल द्रविड़ को सताई चिंता     ||

अब 25 सालों से ज्यादा उम्र के छात्र भी दे सकेंगे ‘नीट’, सुप्रीम कोर्ट ने दिया आदेश

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अब 25 सालों से ज्यादा उम्र के छात्र भी दे सकेंगे ‘नीट’, सुप्रीम कोर्ट ने दिया आदेश

नई दिल्ली। मेडिकल और डेंटल कोर्स में दाखिले के लिए आयोजित की जाने वाली प्रवेश परीक्षा नीट के लिए तय की गई 25 साल की उम्र सीमा को इस साल के लिए सुप्रीम कोर्ट ने हटा दिया है। मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया ने इस साल नीट में बैठने वाले छात्रों के लिए अधिकतम उम्र सीमा 25 साल तय की थी, जिसके खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की गई थी।

जुलाई में होगी सुनवाई

आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि इसके लिए उम्मीदवार 5 अप्रैल तक अपने फॉर्म भर सकते हैं। इसकी परीक्षा 7 मई को होगी। इस आदेश के बाद 25 साल से ऊपर के लाखों छात्रों को लाभ मिलेगा। इस मामले में मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया के अधिकतम उम्र सीमा तय करने के खिलाफ दाखिल याचिका पर जुलाई में सुनवाई होगी।

इस 41 प्रतिशत अधिक छात्र होंगे शामिल


इस साल प्रवेश परीक्षा के लिए 11.35 लाख अभ्यर्थियों ने पंजीकरण कराया है, जो पिछले साल के मुकाबले 41 प्रतिशत अधिक है। साल 2016 में 8.02 लाख से अधिक अभ्यर्थियों ने प्रवेश परीक्षा के लिए आवेदन किया था।

मेडिकल में एडमिशन के लिए होता है नीट का आयोजन

नीट का आयोजन मेडिकल और डेंटल कॉलेज में एमबीबीएस और बीडीएस कोर्सेस में प्रवेश के लिए किया जाता है. इस परीक्षा के द्वारा उन कॉलेजों में प्रवेश मिलता है, जो मेडिकल कांउसिल ऑफ इंडिया और डेटल कांउसिल ऑफ इंडिया के द्वारा संचालित किया जाता है। इस साल नीट का आयोजन आठ भाषाओं- हिंदी, अंग्रेजी, असमी, बांग्ला, गुजराती, मराठी, तमिल और तेलुगू में होगा। 

Todays Beets: