Tuesday, August 14, 2018

अगर रसोई में पूर्व दिशा की ओर मुंह करके नहीं बनाया भोजन तो भुगतने होंगे ये परिणाम

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अगर रसोई में पूर्व दिशा की ओर मुंह करके नहीं बनाया भोजन तो भुगतने होंगे ये परिणाम

हरिद्वार ।  अमूमन घर बनवाते समय कुछ लोग वास्तुशास्त की मदद भी लेते हैं। इस दौरान वह घर में कमरों समेत किचन और शौचालय के स्थान का विेशेष ध्यान रखते हैं ताकि किसी तरह का कोई दोष निर्माण के दौरान न रह जाए। अमूमन कहा जाता है कि अगर घर की आर्थिक स्थिति बिगड़ गई है या घर में रहने वाला शख्स ज्यादातर समय बीमार ही रहता है, या अमूमन घर में कोई न कोई तोड़फोड़ का काम चलता ही रहता है, तो ऐसी स्थिति में कई बार वास्तुशास्त्र के जानकार आपकी रसोई की स्थिति को भी जांचने का सुझाव देते हैं। अगर आपकी रसोई गलत दिशा में बनी हुई या यूं कहें कि गृहणी किचन में गलत दिशा में खड़ी होकर खाना पकाती हैं तो इसका दोष भी घर में रहने वाले लोगों पर लगता है। गलत दिशा में खड़े होकर बनाया गया खाना भी दुषित कहा जाता है। 

पूर्व दिशा में मुंह रखकर बनाए भोजन

असल में जानकारों का कहना है कि किचन में पूर्व दिशा में खड़े होकर भोजन बनाने को सबसे उत्तम माना जाता है। अगर पूर्व दिशा में मुंह रखकर भोजन नहीं बना है तो भगवान उस नैवेद्य को स्वीकार नहीं करते। ऐसी पोजिशन में खड़े होकर बनाए गए भोजन को करने से मन में नकारात्मक विचार आते हैं। गलत कामों मे मन भटकता है और गलत फैसले भी होने लगते हैं। 

क्या आप जानते हैं महाभारत में एक नहीं बल्कि दो थे कृष्ण

 सुख के लिए पूर्व या दक्षिण-पूर्व दिशा सर्वोत्तम


जानकारों का कहना है कि पूर्व या दक्षिण-पूर्व दिशा में मुंह रखकर खाना बनाने से घर में शांति और सुख रहता है। जिन लोगों की किचन ऐसी स्थिति में होती है उन घरों में लोग रसोई दोष से मुक्त होते हैं और खाने से संबंधी बीमारियों से भी उन्हें मुक्ति मिलती है। ऐसे घर में लक्ष्मी रहती है और बचत भी बढ़ती है। माना जाता है कि पूर्व दिशा में मुंह रखकर बनाए भोजन को देवता भोग लगाते हैं। वहीं दक्षिण, उत्तर और पश्चिम सहित अन्य दिशाओं में मुंह रखकर बनाए गए भोजन पर नकारात्मक शक्तियों का असर रहता है। 

क्या आप जानते हैं पूजा में शंख की अहमियत, जानें कैसे करें इसका उपयोग, भूलकर भी ऐसा न करें 

जानें हर दिशा का सच- 

तो चलिए अब बताते हैं कि दक्षिण-पश्चिम दिशा में मुंह रखकर खाना खाने से क्या होता है। जानकारों का कहना है कि ऐसी स्थिति में खाना बनाए जाने से घर में लड़ाई-झगड़े बढ़ते हैं। वहीं पश्चिम दिशा में मुंह रखकर खाना बनाने से स्किन और हड्डी से जुड़ी बीमारियां होती हैं। दक्षिण दिशा में मुंह रखकर खाना बनाने से घर की महिलाएं लगातार बीमार रहती हैं। उत्तर-पश्चिम दिशा की ओर मुंह रखकर खाना बनाने से नकारात्मक शक्तियों का असर रहता है। उत्तर-पूर्व दिशा में मुंह रखकर खाना बनाने से खर्चा बढ़ने लगता है और घर के सदस्य बीमार रहते हैं।

जानें...अपनी किसी मनोकामना के लिए रखें कौन सा व्रत, उपवास के इन नियमों का पालन होगा फलदायी

Todays Beets: