Sunday, July 22, 2018

गले में धारण करें रुद्राक्ष की माला, आर्थिक तंगी होगी दूर

अंग्वाल न्यूज डेस्क
गले में धारण करें रुद्राक्ष की माला, आर्थिक तंगी होगी दूर

नई दिल्ली। अगर आप पैसों की तंगी से जूझ रहे हैं तो आपको रुद्राक्ष की माला पहननी चाहिए। रुद्राक्ष के बारे में ऐसी मान्यता है कि इसका निर्माण भगवान शंकर के आंसुओं से हुआ है। इसको प्राचीन काल से ही आभूषण की तरह पहना जाता रहा है। पौराणिक मान्यताओं के अनुसार रुद्राक्ष इस धरती पर अकेली ऐसी वस्तु है, जिसे मंत्र जाप और ग्रहों को नियंत्रित करने के लिए सबसे उत्तम माना जाता है। रुद्राक्ष को कैसे करें धारण इसके बारे में हम आपको बताने जा रहे हैं। 

रुद्राक्ष धारण करने के नियम

- रुद्राक्ष को कलाई, गला और हृदय पर धारण किया जा सकता है।

- इसे गले में धारण करना सर्वोत्तम होगा वहीं कलाई में 12, गले में 36 और हृदय पर 108 दानों को धारण करना चाहिए।

- हृदय तक लाल धागे में एक दाना रुद्राक्ष धारण कर सकते हैं।

- सावन में, सोमवार को और शिवरात्री के दिन रुद्राक्ष धारण करना सबसे अच्छा होता है। रुद्राक्ष धारण करने के पहले उसे शिवजी को समर्पित करना चाहिए।

- उसी माला या रुद्राक्ष पर मंत्र जाप करना चाहिए।

- जो भी रुद्राक्ष धारण कर रहा है उसे सात्विक रहना चाहिए और आचरण शुद्ध न रखने पर रुद्राक्ष लाभ नहीं देता।


रुद्राक्ष धारण करने के फायदे

- रुद्राक्ष को लेकर मान्यता है कि इसको धारण करने से कई तरह की शारीरिक समस्याएं दूर हो जाती हैं।

- वैज्ञानिक परिक्षण में भी यह बात साबित हो चुकी है कि दिल के रोगियों में रुद्राक्ष धारण करने से बहुत फायदा होता है।

- रुद्राक्ष धारण करने से व्यक्ति पर महालक्ष्मी की कृपा होती है। जीवन में सभी सुख सुविधाएं प्राप्त हो जाती हैं।

- इसे धारण करने से हर तरह की मनोकामना पूरी होती है।

- रुद्राक्ष धारण करने से कठिन साधना करने के बाद मिलने वाले फल के बराबर लाभ होता है।

- रुद्राक्ष धारण करने से व्यक्ति को अपने पापों से मुक्ति मिल जाती है साथ ही यह इंसान को भाग्यशाली भी बनाता है।

Todays Beets: