Sunday, February 18, 2018

Breaking News

   98 साल की उम्र में MA करने वाले राज कुमार का संदेश, कहा-हमेशा कोशिश करते रहें     ||   मुंबई स्टॉक एक्सचेंज ने पार किया 34000 का आंकड़ा, ऑफिस में जश्न का माहौल     ||   पं. बंगाल: मालदा से 2 लाख रुपये के फर्जी नोट बरामद, एक गिरफ्तार    ||   सेक्स रैकेट का भंड़ाभोड़: दिल्ली की लेडी डॉन सोनू पंजाबन अरेस्ट    ||   रूपाणी कैबिनेट: पाटीदारों का दबदबा, 1 महिला को भी मंत्रिमंडल में मिली जगह    ||   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद    ||   RTI में खुलासा- भगत सिंह-राजगुरु-सुखदेव को अब तक नहीं मिला शहीद का दर्जा, सरकारी किताब में बताया गया 'आतंकी'     ||    गुजरात चुनाव: रैली में बोले BJP नेता- दाढ़ी-टोपी वालों को कम करना पड़ेगा, डराने आया हूं ताकि वो आंख न उठा सकें    ||   मध्य प्रदेश: बाबरी विध्वंस पर जुलूस निकाल रहे विहिप-बजरंग दल कार्यकर्ता पर पथराव, भड़क गई हिंसा    ||   बैंक अकाउंट को आधार से जोड़ने की तारीख बढ़ी, जानिए क्या है नई तारीख    ||

रोजाना शराब पीने से बढ़ता है त्वचा कैंसर का खतरा, पढ़े पूरी रिपोर्ट...

अंग्वाल संवाददाता
रोजाना शराब पीने से बढ़ता है त्वचा कैंसर का खतरा, पढ़े पूरी रिपोर्ट...

न्यूयॉर्क। हाल ही में हुए शोध में पाया गया है कि शराब पीने वाले व्यक्तियों में त्वचा कैंसर का खतरा अधिक होता है। प्रकाशित हुई रिपोर्ट के मुताबिक, ज्यादा शराब पीने वाले व्यक्तियों में नॉन मेलोनोमा(त्वचा कैंसर) का अधिक खतरा बढ़ जाता है। शोध में बताया गया है कि रोजाना दस ग्राम से ज्यादा शराब पीने से बेसल सेल कार्सिनोमा (बीसीसी) का खतरा 7 फीसदी और स्किन सेल कार्सिनोमा (सीएससीसी) का खतरा 11 फीसदी तक बढ़ जाता है। यह नॉन-मेलनोमा त्वचा कैंसर के दो सामान्य प्रकार हैं।

यह भी पढ़े- क्या आप जानती हैं चेहरे पर ग्लो लाने में सबसे असरदार है कॉफी

 

 

शोध में कहा गया है कि पराबैंगनी विकिरण सीधे तौर पर बीसीसी और सीएससीसी से जुड़ी हुई हैं, जबकि अब तक शराब और कैंसर का सीधा संबंध पूर्ण रूप से परिभाषित नहीं किया है। शोध के लिए दल ने मेटा-विश्लेषण किया और 13 नियंत्रित मामलों के निष्कर्षो की समीक्षा की है।


यह भी पढ़े- केक पर लगी मोमबत्तियां फूंकना हो सकता है सेहत के लिए हानिकारक, फैलता है संक्रमण का खतरा

 

 

इस शोध पर हॉवर्ड ची.एच, चान स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ के एच.येन ने कहा, मेटा विश्लेषण से शराब के बीसीसी और सीएससीसी से जुड़े होने के सकारात्मक परिणाम मिले हैं। इतना ही नहीं उन्होंने बताया कि बीसीसी व सीएससीसी के जोखिम शराब की खुराक पर भी निर्भर करते हैं।

यह भी पढ़े-  जानिए BP, कोलेस्ट्राल के साथ और किन अन्यों चीजों में सेहत के लिए फायदेमंद होता है पपीता  

Todays Beets: