Monday, November 20, 2017

Breaking News

   मैदान पर विराट के आक्रामक रवैये पर राहुल द्रविड़ को सताई चिंता     ||   अजहर को अंतर्राष्ट्रीय आतंकी घोषित नहीं करेगा चीन, प्रस्ताव पर रोक लगाने के संकेत     ||   दुनिया की सबसे लंबी सुरंग बनाकर चीन अब ब्रह्मपुुत्र नदी का पानी रोकने का बना रहा है प्लान     ||   पीएम मोदी को शीला दीक्षित ने दिया जवाब- हमने नहीं भुलाया पटेल का योगदान    ||   पटना पहुंचे मोहन भागवत, यज्ञ में भाग लेने जाएंगे आरा, नीतीश भी जाएंगे    ||   अखिलेश को आया चाचा शिवपाल का फोन, कहा- आप अध्यक्ष हैं आपको बधाई    ||   अमेरिका में सभी श्रेणियों में H-1B वीजा के लिए आवश्यक कार्रवाई बहाल    ||   रोहिंग्या पर किया वीडियो पोस्ट, म्यांमार की ब्यूटी क्वीन का ताज छिना    ||   अब गेस्ट टीचरों को लेकर CM केजरीवाल और LG में ठनी    ||   केरल में अमित शाह के बाद योगी की पदयात्रा, राजनीतिक हत्याओं पर लेफ्ट को घेरने की रणनीति    ||

अगर जोडों के दर्द से हैं परेशान तो  मिर्च को खाने में करें शामिल और घुटने के दर्द से पाएं निजात

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अगर जोडों के दर्द से  हैं परेशान तो  मिर्च को खाने में करें शामिल और घुटने के दर्द से पाएं निजात

नई दिल्ली। मिर्ची खाना सबके बस की बात नहीं है। एक छोटी सी मिर्च आपकी आंख, नाक और कान को लाल करने के लिए काफी होती है। आइए आपको बता दें कि मिर्च सिर्फ आपके खाने को ही स्वादिष्ट नहीं बनाता है बल्कि इसमें औषधीय गुण भी भरपूर है। मिर्च आपके शरीर में होने वाले दर्द को खत्म करने में भी मददगार साबित हो सकता है। जी हां, विशेषज्ञों ने इसमें पाए जाने वाले ट्रांस कैप्सेसिन निकालने का दावा किया है। 

घुटनों के दर्द से मिलेगी निजात

गौरतलब है कि ट्रांस कैप्सेसिन शरीर में दर्द देने वाले फाइबर को निकाल देता है। शोधकर्ताओं ने इसके जरिए एक दर्दनिवारक दवाई बनाने का दावा किया है जो घुटनों के दर्द से राहत दिलाएगी। यह दवा दर्द की जगह पर इंजेक्शन के जरिये दी जाएगी। खास बात यह है कि दवा की एक खुराक लेने के बाद मरीज को 6 महीने के लिए राहत मिल जाएगी। इस दवा का परीक्षण घुटनों में ऑस्टियोआर्थराइटिस के 175 जटिल मरीजों पर किया गया।


सूजन को खत्म करने में सहायक

आपको बता दें कि इस बीमारी में कार्टिलेज को क्षति होती है, साथ ही दर्द, सूजन और शरीर का वह जोड़ लगभग निष्क्रिय हो जाता है। अध्ययन के दौरान जमा किए आंकड़ों में कहा गया है कि जिन मरीजों को मिर्च के तत्व ट्रांस कैप्सेसिन से बनी दवा दी गई उन्हें दर्द में काफी राहत महसूस हुई। इसके साथ ही उनके घुटनों की अकड़न भी कम हुई और अगले 6 महीने तक उन्हें किसी प्रकार के जोड़ों का दर्द नहीं हुआ।    

Todays Beets: