Monday, September 24, 2018

Breaking News

   ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के पूर्व जीएम के ठिकानों पर आयकर के छापे     ||   बिहार: पूर्व मंत्री मदन मोहन झा बनाए गए प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष। सांसद अखिलेश सिंह बनाए गए अभियान समिति के अध्यक्ष। कौकब कादिरी समेत चार बनाए गए कार्यकारी अध्यक्ष।     ||   कर्नाटक के मंत्री शिवकुमार के खिलाफ ED ने मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया    ||   सीतापुर में श्रद्धालुओें से भरी बस खाई में पलटी 26 घायल, 5 की हालत गंभीर     ||   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||

हमेशा मोबाइल अपने पास रखने वाले हो जाएं सावधान, हो सकते हैं कैंसर और नपुंसकता के शिकार

अंग्वाल न्यूज डेस्क
हमेशा मोबाइल अपने पास रखने वाले हो जाएं सावधान, हो सकते हैं कैंसर और नपुंसकता के शिकार

नई दिल्ली। मोबाइल फोन आज हमारी जिन्दगी का एक जरूरी हिस्सा बन गया है। इसके बिना शायद जिन्दगी की कल्पना भी मुश्किल है। सोते-जागते, उठते-बैठते फोन हमेशा आपके करीब होता है लेकिन क्या आपको पता है कि फोन को ज्यादा करीब रखने से बड़ा नुकसान हो सकता है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों की मानें तो इसके ठीक से इस्तेमाल ना करने पर आप इससे निकलनेवाले रेडिएशन का शिकार भी हो सकते हैं। चलिए इसके बारे में हम आपको बताते हैं।

रेडिएशन का खतरा

गौरतलब है कि मोबाइल से निकलने वाले घातक रेडिएशन से आप कैंसर और नंपुसकता का शिकार हो सकते हैं। कैलिफोर्निया के स्वास्थ्य विभाग ने यह चेतावनी दी है कि रेडिएशन के खतरे से बचने के लिए लोग मोबाइल को खुद से काफी दूर रखकर सोएं। मोबाइल से निकलने वाली किरणों से कैंसर, मानसिक स्वास्थ्य और लोगों की प्रजनन शक्ति पर बुरा असर पड़ सकता है। इन दावों के पक्ष में सबूत मिलने के बाद कैलिफोर्निया ने रेडिएशन को कम करने के लिए गुरुवार को एक गाइडेंस जारी की है। बता दें कि मोबाइल में जिस फ्रीक्वेंसी का इस्तेमाल सूचनाओं को पहुंचाने के लिए होता है वह इंसान के शरीर पर घातक असर डालते हैं        खासकर उस वक्त जब कोई बड़ी फाइल डाउनलोड कर रहा होता है। 


बच्चों के लिए खतरनाक

आपको बता दें कि स्वास्थ्य विभाग की तरफ से जारी रिलीज में कहा गया है कि हालांकि शोध में अभी तक इस बात को साबित नहीं कर पाया है कि मोबाइल फोन का रेडिएशन खतरना है लेकिन इसके पर्याप्त सबूत मिले हैं कि बच्चों के लिए इसका इस्तेमाल काफी खतरनाक है। पूरे राज्य में यह नोटिस उस वक्त आया है जब कई शहर जैसे बर्कले और सेनफ्रेंसिस्को ने स्थानीय स्तर पर चेतावनी जारी कर अपने लोगों को फोन से दूर रहने की हिदायत दी थी।

 

Todays Beets: