Thursday, September 21, 2017

Breaking News

   जम्मू कश्मीर के नौगाम में लश्कर कमांडर अबू इस्माइल के साथ मुठभेड़,     ||   राम रहीम मामले पर गौतम का गंभीर प्रहार, कहा- धार्मिक मार्केटिंग का यह एक क्लासिक उदाहरण    ||   ट्राई ने ओवरचार्जिंग के लिए आइडिया पर लगाया 2.9 करोड़ का जुर्माना    ||   मदरसों का 15 अगस्त को ही वीडियोग्राफी क्यों? याचिका दायर, सुनवाई अगले सप्ताह    ||   पंचकूला से लंदन तक दिखा राम-रहीम विवाद का असर, ब्रिटेन ने जारी की एडवाइजरी    ||   PAK कोर्ट ने हिंदू लड़की को मुस्लिम पति के साथ रहने की मंजूरी दी    ||   बिहार आए पीएम मोदी, बाढ़ से हुई तबाही की गहन समीक्षा की    ||   जेल में ही वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए राम रहीम को सुनाई जाएगी सजा    ||   मच्छल में घुसपैठ नाकाम, पांच आतंकी ढेर, भारी मात्रा में गोलाबारूद बरामद    ||   जापान के बाद अब अमेरिका के साथ युद्धाभ्यास की तैयारी में भारत    ||

रसोई घर में इस्तेमाल होने वाले सामानों में होते हैं बैक्टीरिया, बना सकते हैं आपको बीमार

अंग्वाल न्यूज डेस्क
रसोई घर में इस्तेमाल होने वाले सामानों में होते हैं बैक्टीरिया, बना सकते हैं आपको बीमार

नई दिल्ली। आमतौर पर घर परिवार के लोगों को सेहतमंद रखने की शुरुआत रसोई से ही होती है इस वजह से वहां साफ-सफाई का खास ख्याल रखा जाता है। यह बात शायद की कोई सोच सकता है कि इतनी सफाई के बावजूद आप रोग के शिकार हो सकते हैं। हालांकि रसोई को आमतौर पर साफ रखा जाता है इसके बावजूद वहां इस्तेमाल होने वाले कई सामान ऐसे हैं जिनमें बहुत से कीटाणु होते हैं। इसकी वजह से संक्रमण के कारण फैलने वाली ई-कोलाई और सालमोनेला जैसी खतरनाक बीमारियां हो सकती हैं। इनमें बर्तन से लेकर सब्जियां काटने वाली चाॅपिंग बोर्ड तक शामिल हैं। 

शौचालय से भी गंदा है किचन

गौरतलब है कि हाल में हुए एक शोध में इस बात का खुलासा हुआ कि रसोईघर के प्रतिवर्ग इंच जगह में करीब 61,597 बैक्टीरिया हो सकते हैं।  इतनी बड़ी तादाद में बैक्टीरिया में पाए जाने की वजह से रसोई घर को शौचालय से भी ज्यादा गंदा जगह माना गया है। इन बैक्टीरिया के चलते लोगों को मिचली, डायरिया और असहनीय पेट दर्द का सामना करना पड़ सकता है।  


चाॅपिंग बोर्ड का बदलाव जरूरी

स्वास्थ्य के क्षेत्र में काम करने वाली एक वेबसाइट ‘द हाइजीन डाॅक्टर’ की चिकित्सक का कहना है कि चाॅपिंग बोर्ड बैक्टीरिया के पनपने की खास जगह मानी जाती है। ऐसे में अपने चाॅपिंग बोर्ड को समय-समय पर बदलते रहना चाहिए। इसके साथ ही बर्तनों को साबुन से साफ करने के साथ कीटाणुनाशक से भी साफ करना चाहिए।  

 

Todays Beets: