Monday, May 27, 2019

Breaking News

   अमित शाह बोले - साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के गोसडे पर दिए बयान से भाजपा का सरोकार नहीं    ||   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||

नए कपड़ों को बिना धोए पहनने की आदत बदल लें, हो सकते हैं संक्रमण और दूसरी बीमारियों के शिकार

अंग्वाल न्यूज डेस्क
नए कपड़ों को बिना धोए पहनने की आदत बदल लें, हो सकते हैं संक्रमण और दूसरी बीमारियों के शिकार

नई दिल्ली। अक्सर आप दुकानों से कपड़े खरीदने के बाद उसे बिना धोए पहन लेते हैं तो सावधान हो जाएं। एलर्जी के साथ कई दूसरी बीमारी के शिकार हो सकते हैं। अमेरिका में हुए एक शोध में पता चला है कि किसी शख्स के द्वारा ट्रायल के बाद कपड़ों को बिना किसी जांच के सीधे सेल्फ में लगा दिया जाता है ऐसे में दूसरा व्यक्ति एलर्जी का शिकार हो सकता है। डाॅक्टरों की यह भी सलाह होती है कि कपड़ों की दुकानों से वापस लौटने के बाद साबुन से हाथ धोना चाहिए। वहीं विशेषज्ञों की तरह से कपड़ों से एलर्जी होने की बात को ज्यादा तरजीह नहीं दी जा रही है। 

गौरतलब है कि ऐसा अक्सर देखा जाता है कि हम दुकानों से कपड़े खरीदने के बाद सीधे उसे पहन लेते हैं। ऐसा करना स्वास्थ्य के लिए खतरनाक हो सकता है।अमेरिका में हुए एक अध्ययन में न्यूयॉर्क यूनिवर्सिटी में माइक्रोबायोलॉजी और पैथोलॉजी विभाग के प्रमुख डॉक्टर फिलिप टियर्नो का कहना है कि किसी भी स्टोर से खरीदे गए कपड़ों में कुछ ऐसे बैक्टीरिया हो सकते हैं, जो आपके लिए गंभीर संक्रमण का कारण बन सकते हैं। 


ये भी पढ़ें - शादीशुदा लोग डिप्रेशन का कम होते हैं शिकार, शोध में हुआ खुलासा

इस तरह से बैक्टीरिया और वायरस के संक्रमण के अलावा डायरिया, एमआरएसए, नोरोवायरस का संक्रमण हो सकता है। डॉ. टियर्नो ने इस अध्ययन के लिए शर्ट, पैंट से लेकर स्विमसूट तक 14 विभिन्न तरह के कपड़ों में बैक्टीरिया और गंदगी की पड़ताल की। कुछ कपड़ों में इतनी ज्यादा गंदगी मिली कि उन्हें खुद भी हैरानी हो रही थी। पसीने से लेकर शरीर से निकलने वाले कई तरह के पदार्थ नए खरीद गए कपड़ों पर पाए गए। डॉ. टियर्नो का कहना है कि इससे बड़ा सवाल यह पैदा होता है कि स्टोर में कपड़े खरीदने से पहले ट्रायल करना चाहिए या नहीं। बिना ट्रायल के कपड़े नहीं खरीदे जा सकते हैं मगर उन्हें पहनने से पहले धोना बेहद जरूरी है। 

Todays Beets: