Tuesday, December 11, 2018

Breaking News

   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||   बजरंगबली पर दिए गए बयान को लेकर हिन्दू महासभा ने योगी को कानूनी नोटिस भेजा     ||   पीएम मोदी 3 द‍िसंबर को हैदराबाद में लेंगे पब्ल‍िक मीट‍िंग     ||   भगत स‍िंह आतंकवादी नहीं, हमारे देश को उन पर गर्व है- फारुख अब्दुल्ला     ||   अन‍िल अंबानी की जेब में देश का पैसा जा रहा है-राहुल गांधी     ||    दिल्ली: TDP नेता वाईएस चौधरी को HC से राहत, गिरफ्तारी पर रोक     ||    पूर्व क्रिकेटर अजहर तेलंगाना कांग्रेस समिति के कार्यकारी अध्यक्ष बनाए गए     ||   किसानों को कांग्रेस ने मजबूर और बीजेपी ने मजबूत बनाया: PM मोदी     ||

नए कपड़ों को बिना धोए पहनने की आदत बदल लें, हो सकते हैं संक्रमण और दूसरी बीमारियों के शिकार

अंग्वाल न्यूज डेस्क
नए कपड़ों को बिना धोए पहनने की आदत बदल लें, हो सकते हैं संक्रमण और दूसरी बीमारियों के शिकार

नई दिल्ली। अक्सर आप दुकानों से कपड़े खरीदने के बाद उसे बिना धोए पहन लेते हैं तो सावधान हो जाएं। एलर्जी के साथ कई दूसरी बीमारी के शिकार हो सकते हैं। अमेरिका में हुए एक शोध में पता चला है कि किसी शख्स के द्वारा ट्रायल के बाद कपड़ों को बिना किसी जांच के सीधे सेल्फ में लगा दिया जाता है ऐसे में दूसरा व्यक्ति एलर्जी का शिकार हो सकता है। डाॅक्टरों की यह भी सलाह होती है कि कपड़ों की दुकानों से वापस लौटने के बाद साबुन से हाथ धोना चाहिए। वहीं विशेषज्ञों की तरह से कपड़ों से एलर्जी होने की बात को ज्यादा तरजीह नहीं दी जा रही है। 

गौरतलब है कि ऐसा अक्सर देखा जाता है कि हम दुकानों से कपड़े खरीदने के बाद सीधे उसे पहन लेते हैं। ऐसा करना स्वास्थ्य के लिए खतरनाक हो सकता है।अमेरिका में हुए एक अध्ययन में न्यूयॉर्क यूनिवर्सिटी में माइक्रोबायोलॉजी और पैथोलॉजी विभाग के प्रमुख डॉक्टर फिलिप टियर्नो का कहना है कि किसी भी स्टोर से खरीदे गए कपड़ों में कुछ ऐसे बैक्टीरिया हो सकते हैं, जो आपके लिए गंभीर संक्रमण का कारण बन सकते हैं। 


ये भी पढ़ें - शादीशुदा लोग डिप्रेशन का कम होते हैं शिकार, शोध में हुआ खुलासा

इस तरह से बैक्टीरिया और वायरस के संक्रमण के अलावा डायरिया, एमआरएसए, नोरोवायरस का संक्रमण हो सकता है। डॉ. टियर्नो ने इस अध्ययन के लिए शर्ट, पैंट से लेकर स्विमसूट तक 14 विभिन्न तरह के कपड़ों में बैक्टीरिया और गंदगी की पड़ताल की। कुछ कपड़ों में इतनी ज्यादा गंदगी मिली कि उन्हें खुद भी हैरानी हो रही थी। पसीने से लेकर शरीर से निकलने वाले कई तरह के पदार्थ नए खरीद गए कपड़ों पर पाए गए। डॉ. टियर्नो का कहना है कि इससे बड़ा सवाल यह पैदा होता है कि स्टोर में कपड़े खरीदने से पहले ट्रायल करना चाहिए या नहीं। बिना ट्रायल के कपड़े नहीं खरीदे जा सकते हैं मगर उन्हें पहनने से पहले धोना बेहद जरूरी है। 

Todays Beets: