Monday, July 23, 2018

Breaking News

   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||   नीतीश का गठबंधन को जवाब कहा गठबंधन सिर्फ बिहार में है बाहर नहीं     ||   जापान में बारिश का कहर जारी 100 से ज्यादा लोगों की मौत     ||   PM मोदी के नोएडा दौरे से पहले लगा भारी जाम, पढ़ें पूरी ट्रैफिक एडवाइजरी     ||    नीतीश ने दिए संकेत: केवल बिहार में है भाजपा और जदयू का गठबंधन, राष्ट्रीय स्तर पर हम साथ नहीं    ||   निर्भया मामले में तीनों दोषियों को होगी फांसी, सुप्रीम कोर्ट ने याचिका ठुकराई    ||   उत्तर भारत में धूल: चंडीगढ़ में सुबह 11 बजे अंधेरा छाया, 26 उड़ानें रद्द; दिल्ली में भी धूल कायम     ||

मासंपेशियों के प्रोटीन से दूर की जा सकती है इनसोमिनिया की बीमारी

अंग्वाल न्यूज डेस्क
मासंपेशियों के प्रोटीन से दूर की जा सकती है इनसोमिनिया की बीमारी

अमेरिका। अमूमन सबका मानना है कि नींद से जुड़े सभी विकार हमारे दिमाग में होते हैं, लेकिन हाल ही में हुए शोध में पाया गया है कि मांसपेशियों में प्रोटीन से इनसोमिनिया का इलाज संभव किया जा सकता है। अमेरिका की यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्सास के न्यूरोसाइंस विभाग के अध्यक्ष जोसेफ ताकाशाही ने बताया कि यह बहुत ही चौंका देने वाला खुलासा है। यह शोध नींद से संबंधित हुए शोध की दिशा बदलने वाला है। अध्यक्ष जोसेफ ने बताया कि चूहों पर किए गए इस अध्ययन में पाया गया है कि इस प्रोटीन की मस्तिष्क में उपस्थिति या अनुपस्थिति का नींद की बीमारी पर बहुत कम प्रभाव पड़ा है, लेकिन जब चूहों की मांसपेशियों में बीएमएएल-1 प्रोटीन की ज्यादा मात्रा मिलाई चतो वे इनसोमिनिया यानी नींद न आने की बीमारी से तेजी से उबर सके। 


साथ ही उन्होंने बताया कि मांसपेशियों में इस प्रोटीन की उपस्थिति से मस्तिष्क को एक संदेश जाता है, जो नींद को प्रभावित करता है। शोध के मनुष्य पर लागू किया तो संभव ही नींद से जुड़ी बीमारियों के उपचार का नया तरीका खोजा जा सकेगा। 

Todays Beets: