Friday, January 19, 2018

Breaking News

   98 साल की उम्र में MA करने वाले राज कुमार का संदेश, कहा-हमेशा कोशिश करते रहें     ||   मुंबई स्टॉक एक्सचेंज ने पार किया 34000 का आंकड़ा, ऑफिस में जश्न का माहौल     ||   पं. बंगाल: मालदा से 2 लाख रुपये के फर्जी नोट बरामद, एक गिरफ्तार    ||   सेक्स रैकेट का भंड़ाभोड़: दिल्ली की लेडी डॉन सोनू पंजाबन अरेस्ट    ||   रूपाणी कैबिनेट: पाटीदारों का दबदबा, 1 महिला को भी मंत्रिमंडल में मिली जगह    ||   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद    ||   RTI में खुलासा- भगत सिंह-राजगुरु-सुखदेव को अब तक नहीं मिला शहीद का दर्जा, सरकारी किताब में बताया गया 'आतंकी'     ||    गुजरात चुनाव: रैली में बोले BJP नेता- दाढ़ी-टोपी वालों को कम करना पड़ेगा, डराने आया हूं ताकि वो आंख न उठा सकें    ||   मध्य प्रदेश: बाबरी विध्वंस पर जुलूस निकाल रहे विहिप-बजरंग दल कार्यकर्ता पर पथराव, भड़क गई हिंसा    ||   बैंक अकाउंट को आधार से जोड़ने की तारीख बढ़ी, जानिए क्या है नई तारीख    ||

अकेलापन लोगों को बनाता है ज्यादा स्वार्थी और आत्मकेंद्रित

अंग्वाल संवाददाता
अकेलापन लोगों को बनाता है ज्यादा स्वार्थी और आत्मकेंद्रित

अकेलापन लोगों को ज्यादा स्वार्थी बनाता है, जिससे आगे चलकर ऐसे लोग और ज्यादा सामाजिक अलगाव में पड़ते हैं। शोधकर्ताओं ने एक नए अध्ययन के नतीजों में यह बात कही है।शोधकर्ताओं का कहना है कि, लगातार अकेलेपन से जूझ रहे लोगों नें आत्म केंद्रित होने की प्रर्वत्ति बढ़ने लगती है। नतीजे में आगे चलकर ऐसे लोग और ज्यादा अकेलेपन से ग्रस्त हो जाते हैं। अमेरिका  की शिकागो यूनिवर्सिटी के शोधकर्ता जनॅ कैसियोप्पो ने कहा, अगर आप अधिक आत्मकेंद्रित होते हैं तो आपके सामाजिक अलगाव में पड़ने का खतरा बढ़ जाता है।

यह भी पढ़े -  तेजी से बढ़ती बीमारी थाइराइड के पहचानें लक्षण और घरेलू उपाय से करें उपचार


शोधकर्ताओं का इसके साथ यह भी कहना है कि आत्मकेंद्रित होने की प्रर्वत्ति को खत्म करना अकेलेपन के संभावित खतरों से बचने के लिए आवश्यक है। इससे व्यक्ति को अकेलपन के बदत्तर नतिजों से दूर रहने में मदद मिल सकती है। कैसियोप्पो मे कहा गया है कि, यह एक सामान्य तथ्य है कि अकेलेपन से व्यक्ति को आत्मकेंद्रित बनाती हैं। लेकिन हमारे अध्ययन ने जो अहम तथ्य उजागर किया है वह यह है कि यह आत्मकेंद्रित पलटकर व्यक्ति को अधिक अकेलेपन की ओर धकेलती है। शोधकर्ताओं कहना हैं कि, अकेलेपन भी एक तरह से चेतावनी  प्रणाली है जो अपर्याप्त सामाजिक रिश्ते को दुरूस्त करने की चेतावनी भी देता है।

यह भी पढ़े - टीबी के टीके से टाइप-1 की डायबिटीज का इलाज है संभव

Todays Beets: