Monday, June 17, 2019

Breaking News

   अमित शाह बोले - साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के गोसडे पर दिए बयान से भाजपा का सरोकार नहीं    ||   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||

बदलते मौसम में सर्दी-जुकाम है आम, अपनाएं इन घरेलू उपायों को और पाएं आराम 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
बदलते मौसम में सर्दी-जुकाम है आम, अपनाएं इन घरेलू उपायों को और पाएं आराम 

नई दिल्ली। बदलते मौसम दौरान सर्दी-जुकाम की समस्या आम हो जाती है। वैसे तो यह साधारण सी ही बात है लेकिन ध्यान न देने पर यह गंभीर समस्या भी पैदा कर देता है। आमतौर पर सर्दी या जुकाम होने पर हम एलोपैथिक दवाई लेते हैं। इससे कुछ देर तक तो आराम मिलता है लेकिन दवा का असर खत्म होते ही यह इंसान को फिर से अपनी गिरफ्त में ले लेता है। आज हम आपको कुछ घरेलू उपाय बताने जा रहे हैं जिसे अपनाकर आप आसानी से इन परेशानियों से निजात पा सकते हैं। गौरतलब है कि बदलते मौसम के साथ हवा में कई तरह के वायरस और अन्य विषाणुओं के फैले होने की वजह से हम इसकी चपेट में आ जाते हैं।

कैसे फैलती है यह बीमारी 

बदलते मौसम में सर्दी-जुकाम की समस्या हवा में फैले कई वायरस और बैक्टीरिया के संक्रमण के कारण होती है। जब शरीर की प्रतिरोधक क्षमता कम होने लगती है, तब सर्दी-जुकाम जैसी समस्या पहले सिर उठाती है। धूल, धुआं, प्रदूषण, एलर्जी, ठंडे से गरम या गरम से एकदम से ठंडे में जाना, धूप से आने के बाद ठंडी चीजें खा लेना आदि इसके प्रमुख कारण होते हैं। 

ये हैं लक्षण

गले में खराश। 

सिर दर्द। 

सांस लेने में दिक्कत। 

हल्का बुखार आना।

आंखों में जलन।

शरीर में दर्द।


क्या हैं बचाव 

-मौसम में बदलाव के साथ ही शुरू कर दें सुबह-शाम के गरारे।

-जब घर से बाहर जाएं, तो मास्क जरूर पहनें।

-नाक के अंदर की सतह पर सरसों का तेल लगाएं।

-सर्दी-जुकाम के शिकार लोगों का सामान इस्तेमाल करने और सीधे-सीधे संपर्क में आने से बचें।

-आपसे किसी और को ये समस्या ना हो, इसके लिए छींकते समय अपने मुंह पर रूमाल जरूर रखें।

-धूप से आने के बाद तुरंत ठंडा पानी न पिएं और न ही किसी ठंडी चीज का सेवन करें। 

हल्का और सुपाच्य हो खानपान 

सर्दी-जुकाम होने पर घर में बना हल्का और आसानी से पचने वाला भोजन ही करना चाहिए। खाने में ज्यादा से ज्यादा तरल पदार्थों का इस्तेमाल करें। घर में अगर किसी भी व्यक्ति को जुकाम हो गया हो तो रसोई में रखे इलायची, लौंग, दालचीनी और तेजपत्ता का इस्तेमाल करें। गरम भोजन का उपयोग करें। पीने के लिए गुनगुने पानी का ही उपयोग करें। इस मौसम में कोल्ड ड्रिंक के इस्तेमाल से बचने की कोशिश करें। गले में खराश महसूस होने पर गुनगुने पानी में नमक डालकर गरारे करें आराम मिलेगा। 

Todays Beets: