Saturday, November 17, 2018

Breaking News

   एसबीआई ने क्लासिक कार्ड से पैसे निकालने के बदले नियम    ||   बाजार में मंगलवार को आई बहार, सेंसेक्स और निफ्टी में बढ़त     ||   हिंदूराव अस्पताल के ऑपरेशन थियेटर में निकला सांप , हंगामा     ||   सीबीआई के स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना के आरोपों के बाद हो सकता है उनका लाइ डिटेक्टर टेस्ट    ||   देहरादून की मॉडल ने किया मुंबई में हंगामा , वाचमैन के साथ की हाथापाई , पुलिस आई तो उतार दिए कपड़े     ||   दंतेवाड़ा में नक्सली हमला, दो जवान शहीद , दुरदर्शन के कैमरामैन की भी मौत     ||   सेना हर चुनौती से न‍िपटने के ल‍िए तैयार, सर्जिकल स्ट्राइक भी व‍िकल्‍प: रणबीर सिंह    ||   BJP विधायक मानवेंद्र ने बदला पाला, राज्यवर्धन बोले- कांग्रेस ने 70 साल में मंत्री नहीं बनाया    ||   सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर छिड़ी जंग, हिरासत में 30 प्रदर्शनकारी    ||   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||

अस्थमा से हैं परेशान तो अपनाएं इन घरेलू उपायों को और रहें परेशानी से दूर

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अस्थमा से हैं परेशान तो अपनाएं इन घरेलू उपायों को और रहें परेशानी से दूर

नई दिल्ली। अस्थमा का कोई स्थाई इलाज नहीं है। इस रोग से ग्रसित लोगों को धूल और धुएं से काफी परेशानी होती है। इस रोग का इलाज तो संभव नहीं है लेकिन इसकी रोकथाम कर इस परेशानी से निजात पाई जा सकती है। अस्थमा के रोगियों को नुस्खा इस्तेमाल करने के साथ ही अपने पास इनहेलर जरूर रखना चाहिए। आइए आज हम आपको अस्थमा की रोकथाम के कुछ घरेलू उपाय बताने जा रहे हैं। 

केला

एक पके केले को छिलके सहित सेंककर बाद में उसका छिलका हटाकर केले के टुकड़ों में पिसी काली मिर्च डालकर गर्म-गर्म दमे रोगी को देनी चाहिए। इससे रोगी को राहत मिलेगी।

लहसुन

लहसुन अस्थमा के इलाज में काफी कारगर साबित होता है। अस्थमा रोगी लहुसन की चाय या 30 मिली दूध में लहसुन की पांच कलियां उबालें और इस मिश्रण का हर रोज सेवन करने से अस्थमा में शुरुआती अवस्था में काफी फायदा मिलता है। 


अजवाइन और लौंग

गर्म पानी में अजवाइन डालकर स्टीम लेने से भी अस्थमा को नियंत्रित करने में राहत मिलती है। यह घरेलू उपाय काफी फायदेमंद है। इसके अलावा 4-5 लौंग लें और 125 मिली पानी में 5 मिनट तक उबालें। इस मिश्रण को छानकर इसमें एक चम्मच शुद्ध शहद मिलाएं और गर्म-गर्म पी लें। हर रोज दो से तीन बार यह काढ़ा बनाकर पीने से मरीज को लाभ होता है।

तुलसी

तुलसी अस्थमा को नियंत्रित करने में लाभकारी है। तुलसी के पत्तों को अच्छी तरह से साफ कर उनमें पिसी काली मिर्च डालकर खाने के साथ देने से अस्थमा नियंत्रण में रहता है। इसके अलावा तुलसी को पानी के साथ पीसकर उसमें शहद डालकर चाटने से अस्थमा से राहत मिलती है।

Todays Beets: