Thursday, November 22, 2018

Breaking News

   ऑस्ट्रेलिया के PM मॉरिशन बोले- भारत दुनिया की सबसे तेजी से आगे बढ़ती अर्थव्यवस्था     ||   पश्चिम बंगालः सिलीगुड़ी की तीस्ता नहर में 4 जिंदा मोर्टार सेल बरामद     ||   मुजफ्फरपुर बालिका गृहकांडः कोर्ट ने मंजू वर्मा को 1 दिन की पुलिस हिरासत में भेजा     ||   करतारपुर साहिब कॉरिडोर को मंजूरी देने पर CM अमरिंदर ने PM मोदी को कहा- शुक्रिया     ||   करतारपुर कॉरिडोर पर मोदी सरकार की मंजूरी के बाद बोला PAK- जल्द देंगे गुड न्यूज     ||   चौदह दिनों की न्यायिक हिरासत में बिहार की पूर्व मंत्री मंजू वर्मा, कोर्ट में किया था सरेंडर     ||   MP में चुनाव प्रचार के दौरान शख्स ने BJP कैंडिडेट को पहनाई जूतों की माला     ||   बेंगलुरु: गन्ना किसानों के साथ सीएम कुमारस्वामी की बैठक     ||   US में ट्रंप को कोर्ट से झटका, अवैध प्रवासियों को शरण देने से नहीं कर सकते इनकार    ||   एसबीआई ने क्लासिक कार्ड से पैसे निकालने के बदले नियम    ||

अगर आप हैं अपने साथी के खर्राटों से परेशान तो जानिए खर्राटे दूर करने के उपाय

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अगर आप हैं अपने साथी के खर्राटों से परेशान तो जानिए खर्राटे दूर करने के उपाय

नई दिल्ली । अकसर आपने लोगों को कहते सुना होगा कि वह अपने साथी के खर्राटों से परेशान हैं जिस कारण उनकी नींद पूरी नहीं हो पाती है ।  लेकिन क्या आप जानते हैं कि खर्राटे आना कोई बीमारी नहीं है बल्कि यह रोज की भाग-दौड़ के कारण लोगों में होने वाली थकावट से होती है। खर्राटे लेते वक्त आप कई तरह की अजीबो-गरीब आवाजें भी निकालते हैं।  सांस लेने के दौरान अजीब आवाजों के आने का कारण सांस की नली में परेशानी का होना होता है।  कई लोगों की स्वास नली के पीछे का भाग संकरा होता है जिससे सांस लेते और छोड़ते वक्त शरीर में मौजूद टिशू वाइब्रेट होते हैं और अवाज पैदा होती है । चलिए अब हम आपको बताते हैं खर्राटे की समस्या को कम करने के उपाय।

वजन बढ़ना 

वजन के बढ़ने को भी खर्राटे आने का कारण माना गया है । मोटापे के कारण गले की चर्बी बढ़ जाती है जिससे जब सांस शरीर में प्रवेश करती है तो वह गले के टिशू से टकरा कर कंपन पैदा करती है जिससे आवाज आती है ।

शराब न पीना 

शराब पीने से भी लोगों को खर्राटे आते हैं। इसलिए कभी भी सोने से पहले शराब का सेवन नहीं करना चाहिए।

समय पर न सोना


कई बार लोगों में नींद पूरी न होने और समय पर न सोने से भी खर्राटे की समस्या होती है इसलिए लोगों को समय पर सोना चाहिए और कम से कम 7 से 8 घंटे की नींद लेनी जरुरी है।

दमा की बीमारी से

 खर्राटे की समस्या दमा और सर्दी से होने वाली बीमारी के कारण भी होती है। दमा और सर्दी की बीमारी से परेशान लोगों की स्वास नली संकरी हो जाती है जिससे गले में आवाज पैदा होती है और लोगों को खर्राटे आते हैं ।

स्वस्थ जीवन- शैली

तेजी से बदलती जीवन शैली में लोगों के पास खुद के लिए समय नहीं है । बेवक्त खाना, ठीक प्रकार से न सोने और सिगरेट-शराब के सेवन से भी रात को सोते वक्त खर्राटे आते हैं।

Todays Beets: