Monday, July 16, 2018

Breaking News

   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||   नीतीश का गठबंधन को जवाब कहा गठबंधन सिर्फ बिहार में है बाहर नहीं     ||   जापान में बारिश का कहर जारी 100 से ज्यादा लोगों की मौत     ||   PM मोदी के नोएडा दौरे से पहले लगा भारी जाम, पढ़ें पूरी ट्रैफिक एडवाइजरी     ||    नीतीश ने दिए संकेत: केवल बिहार में है भाजपा और जदयू का गठबंधन, राष्ट्रीय स्तर पर हम साथ नहीं    ||   निर्भया मामले में तीनों दोषियों को होगी फांसी, सुप्रीम कोर्ट ने याचिका ठुकराई    ||   उत्तर भारत में धूल: चंडीगढ़ में सुबह 11 बजे अंधेरा छाया, 26 उड़ानें रद्द; दिल्ली में भी धूल कायम     ||

अगर आप हैं अपने साथी के खर्राटों से परेशान तो जानिए खर्राटे दूर करने के उपाय

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अगर आप हैं अपने साथी के खर्राटों से परेशान तो जानिए खर्राटे दूर करने के उपाय

नई दिल्ली । अकसर आपने लोगों को कहते सुना होगा कि वह अपने साथी के खर्राटों से परेशान हैं जिस कारण उनकी नींद पूरी नहीं हो पाती है ।  लेकिन क्या आप जानते हैं कि खर्राटे आना कोई बीमारी नहीं है बल्कि यह रोज की भाग-दौड़ के कारण लोगों में होने वाली थकावट से होती है। खर्राटे लेते वक्त आप कई तरह की अजीबो-गरीब आवाजें भी निकालते हैं।  सांस लेने के दौरान अजीब आवाजों के आने का कारण सांस की नली में परेशानी का होना होता है।  कई लोगों की स्वास नली के पीछे का भाग संकरा होता है जिससे सांस लेते और छोड़ते वक्त शरीर में मौजूद टिशू वाइब्रेट होते हैं और अवाज पैदा होती है । चलिए अब हम आपको बताते हैं खर्राटे की समस्या को कम करने के उपाय।

वजन बढ़ना 

वजन के बढ़ने को भी खर्राटे आने का कारण माना गया है । मोटापे के कारण गले की चर्बी बढ़ जाती है जिससे जब सांस शरीर में प्रवेश करती है तो वह गले के टिशू से टकरा कर कंपन पैदा करती है जिससे आवाज आती है ।

शराब न पीना 

शराब पीने से भी लोगों को खर्राटे आते हैं। इसलिए कभी भी सोने से पहले शराब का सेवन नहीं करना चाहिए।

समय पर न सोना


कई बार लोगों में नींद पूरी न होने और समय पर न सोने से भी खर्राटे की समस्या होती है इसलिए लोगों को समय पर सोना चाहिए और कम से कम 7 से 8 घंटे की नींद लेनी जरुरी है।

दमा की बीमारी से

 खर्राटे की समस्या दमा और सर्दी से होने वाली बीमारी के कारण भी होती है। दमा और सर्दी की बीमारी से परेशान लोगों की स्वास नली संकरी हो जाती है जिससे गले में आवाज पैदा होती है और लोगों को खर्राटे आते हैं ।

स्वस्थ जीवन- शैली

तेजी से बदलती जीवन शैली में लोगों के पास खुद के लिए समय नहीं है । बेवक्त खाना, ठीक प्रकार से न सोने और सिगरेट-शराब के सेवन से भी रात को सोते वक्त खर्राटे आते हैं।

Todays Beets: