Saturday, October 20, 2018

Breaking News

   सेना हर चुनौती से न‍िपटने के ल‍िए तैयार, सर्जिकल स्ट्राइक भी व‍िकल्‍प: रणबीर सिंह    ||   BJP विधायक मानवेंद्र ने बदला पाला, राज्यवर्धन बोले- कांग्रेस ने 70 साल में मंत्री नहीं बनाया    ||   सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर छिड़ी जंग, हिरासत में 30 प्रदर्शनकारी    ||   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||   केरलः अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद ने सबरीमाला फैसले के खिलाफ HC में लगाई याचिका    ||   कोलकाताः HC ने दुर्गा पूजा आयोजकों को ममता के 28 करोड़ देने के फैसले पर रोक लगाई    ||    रूस के साथ S-400 एयर डिफेंस मिसाइल पर भारत की डील    ||   नार्वेः राजधानी ओस्लो में आज होगा शांति के नोबेल पुरस्कार का ऐलान    ||   अंकित सक्सेना मर्डर केसः ट्रायल के लिए अभियोगपक्ष के 2 वकीलों की नियुक्ति    ||   जम्मू कश्मीर में नेशनल कॉफ्रेंस के दो कार्यकर्ताओं की गोली मारकर हत्या, मरने वालों में एक MLA का पीए भी     ||

कंगना रनौत ने 'ओपन लेटर' लिख सैफ अली खान को दिया ऐसे जवाब...

अंग्वाल संवाददाता
कंगना रनौत ने

नई दिल्ली। बॉलीवुड की 'क्वीन' कंगना रनौत के 'नेपोटिज्म' वाले बयान को लेकर पिछले दिनों iifa awards शो के दौरान करण जौहर, सैफ अली खान और वरूण धवन ने जमकर मजाक उड़ाया था।  इसके बाद से ही सोशल मीडिया पर लोगों के इसके खिलाफ आपत्ति जताना शुरू कर दिया था। इसे देखते हुए वरूण धवन और करण जौहर ने उनसे मांफी भी मांगी थी । इसके बाद भी कंगना चुप रही और इस मामले पर उन्होंने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी। हालांकि मुद्दे पर सैफ अली खान ने कंगना को संबोधित करते हुए एक ओपन लेटर लिखा। इसके बाद अब कगना ने भी एक 'ओपन लेटर' लिख कैफ के नेपोटिज्म वाले बयान पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। 

कंगना ने अपने इस ओपन लेटर में लिखा है कि सैफ के लिखे हुए लैटर से मैं काफी परेशान हुई। आखिरी बार मुझे इस ब्लॉग ने हैरान कर दिया था जो करण जौहर ने 'नेपोटिज्म' पर लिखा था। साथ ही उन्होंने अपने लेटर में लिखा कि बहुत बार निष्पक्षता और तर्क को अनदेखा कर दिया जाता है। इसके अलावा कंगना ने अपने लेटर में  'नेपोटिज्म' पर बात करते हुए विवेकानंद, आइंस्टाइन, शेक्सपियर जैसी बड़ी सामाजिक हस्तियों के तर्को का भी उदाहरण दिया है। 

कंगना ने लेटर में सैफ के द्वारा 'जीन' और 'यूजेनिक'  वाले तर्क पर भी सवाल उठाते हुए लिखा कि अगर ऐसा होता तो हमारे बीच विवेकानंद, आइंस्टाइन, शेक्शपियर होते और वो एक किसान ही होती। वो कभी भी एक्टिंग जैसे करियर के बारे में न सोचती और न ही इस फील्ड में कभी काम करती। 


बता दें कि कंगना ने यह 'ओपन लेटर' 'मिड-डे' अखबार के लिए लिखा है। कंगना के लिख ओपन लेटर को पढ़ने के लिए नीचे दिए लिंक पर क्लिक करें। 

http://www.mid-day.com/articles/kangana-ranaut-reply-farmer-comment-saif-ali-khan-karan-johar-varun-dhawan-dig-iifa-awards-2017/18443159

Todays Beets: