Tuesday, September 25, 2018

Breaking News

   ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के पूर्व जीएम के ठिकानों पर आयकर के छापे     ||   बिहार: पूर्व मंत्री मदन मोहन झा बनाए गए प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष। सांसद अखिलेश सिंह बनाए गए अभियान समिति के अध्यक्ष। कौकब कादिरी समेत चार बनाए गए कार्यकारी अध्यक्ष।     ||   कर्नाटक के मंत्री शिवकुमार के खिलाफ ED ने मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया    ||   सीतापुर में श्रद्धालुओें से भरी बस खाई में पलटी 26 घायल, 5 की हालत गंभीर     ||   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||

यूसुफ पठान डोप टेस्ट में फेल, बीसीसीआई ने किया सस्पेंड

अंग्वाल न्यूज डेस्क
यूसुफ पठान डोप टेस्ट में फेल, बीसीसीआई ने किया सस्पेंड

नई दिल्ली ।  बीसीसीआई ने भारतीय टीम के ताबड़तोड़ बल्लेबाज युसूफ पठान पर प्रतिबंध लगा दिया है। उनपर यह कार्रवाई डोप टेस्ट में फेल होने के चलते लगाई गई है। खबर है कि बीसीसीआई ने यूसुफ पठान को सस्पेंड कर दिया है। अब वह अगले पांच महीने तक कोई क्रिकेट नहीं खेल पाएंगे। बता दें कि पिछले साल रणजी ट्रॉफी के दौरान यूसुफ पठान डोप टेस्ट में फेल हो गए थे, जिसके चलते अब ये कार्रवाई की गई है। हाल में समाप्त हुए रणजी ट्रॉफी सीजन में यूसुफ पठान का डोप टेस्ट हुआ था, जिसमें वो फेल हो गए थे। उन्हें प्रतिबंधित पदार्थ 'टर्बयूटलीन' लेने का दोषी पाया गया है। याद रहे कि पठान ने पिछले साल अक्टूबर के बाद से एक भी क्रिकेट मैच नहीं खेला है।

एक अंग्रेजी अखबार में छपी रिपोर्ट के मुताबिक, यूसुफ ने ब्रोजीट नामक दवाई ली थी जिसमें टर्बयूटलीन मौजूद होता है। टर्बयूटलीन प्रतिबंधित पदार्थ है और किसी समस्या को लेकर अगर खिलाड़ी इस दवाई को लेता भी है तो उसे इसके सेवन से पहले जरूरी इजाजत लेनी पड़ती है। इस रिपोर्ट के मुताबिक ना तो यूसुफ ने और ना ही उनके डॉक्टर ने इसकी इजाजत ली थी। इसके बाद बीसीसीआई ने बड़ौदा की टीम को आदेश दिया था कि उन्हें बाकी के टूर्नामेंट (रणजी ट्रॉफी) में ना चुना जाए। 


विदित हो कि अन्य खेलों के बाद अब क्रिकेट में भी धीरे-धीरे डोपिंग के मामले उजागर होने लगे हैं। यूसुफ डोप टेस्ट में फेल होने वाले दूसरे भारतीय क्रिकेटर हैं। इससे पहले दिल्ली के गेंदबाज प्रदीप सांगवान आईपीएल 2012 के दौरान डोपिंग के दोषी पाए गए थे जिसके बाद उन पर 18 महीनों का प्रतिबंध लगाया गया था। 

Todays Beets: