Friday, August 18, 2017

Breaking News

   मच्छल में घुसपैठ नाकाम, पांच आतंकी ढेर, भारी मात्रा में गोलाबारूद बरामद    ||   जापान के बाद अब अमेरिका के साथ युद्धाभ्यास की तैयारी में भारत    ||   SC में आर्टिकल 370 को हटाने के लिए याचिका दायर, कोर्ट ने दिया केंद्र को नोटिस    ||   राज्यसभा में सिब्बल बोले- छप रहे 1 नंबर के दो नोट, सदी का सबसे बड़ा घोटाला    ||   नीतीश सरकार के मंत्रिमंडल का आज होगा विस्तार, शपथ ले सकते हैं 16 मंत्री    ||   सपा को तगड़ा झटका, बुक्कल नवाब समेत 2 MLC का इस्तीफा, की मोदी-योगी की तारीफ    ||   नगालैंड: शुरहोजेली ने विश्वासमत से पहले ही मानी हार, ज़ेलियांग ने ली CM पद की शपथ    ||   बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने कहा- पार्टी कहेगी तो दे दूंगा इस्तीफा    ||   डोकलाम विवाद: भारतीय सीमा के पास खूब हथियार जमा कर रहा है चीन!    ||   रवि शास्त्री की चाहत- सचिन को मिले भारतीय बल्लेबाजी का जिम्मा    ||

गाड़ी का पॉल्यूशन सर्टिफिकेट है तो ही होगा इंश्योरेंस रिन्यू - सुप्रीम कोर्ट

अंग्वाल न्यूज डेस्क
गाड़ी का पॉल्यूशन सर्टिफिकेट है तो ही होगा इंश्योरेंस रिन्यू - सुप्रीम कोर्ट

नई दिल्ली । वाहनों से होने वाले प्रदूषण पर अंकुश लगाने के लिए सुप्रीम कोर्ट ने एक नया नियम लागू किया है। शीर्ष अदालत ने वाहनों के इंश्योरेंस रिन्यू कराने के लिए नियमों में बदलाव करते हुए अब इस काम के लिए वाहन का पॉल्यूशन अंडर कंट्रोल सर्टिफिकेट जरूरी कर दिया है। वाहन का पॉल्यूशन सर्टिफिकेट नहीं होने पर वाहन का इंश्योरेंस रिन्यू नहीं होगा। सुप्रीम कोर्ट का कहना है कि यह नियम वाहनों से होने वाले प्रदूषण पर अंकुश लगाने के मद्देनजर लिया गया है, ताकि वाहन चालक उत्सर्जन मानदंडों के तहत अनुपालन कर सकें। 

जस्टिस मदन बी लोकुर की पीठ ने यह आदेश दिया है। उन्होंने अपने आदेश में सभी इंश्योरेंस कंपनियों को निर्देश दिया है कि सभी प्रदूषणकारी वाहन सड़कों से दूर रहें।  पीठ ने पॉल्यूशन अंडर कंट्रोल (पीयूसी) केंद्रों के लिए ऑल इंडिया रीयल टाइम ऑनलाइन प्रणाली का भी आदेश दिया ताकि प्रदूषण प्रमाण पत्र देने के दौरान किसी भी हेर-फेर की जांच हो सके। 

Todays Beets: