Sunday, November 18, 2018

Breaking News

   एसबीआई ने क्लासिक कार्ड से पैसे निकालने के बदले नियम    ||   बाजार में मंगलवार को आई बहार, सेंसेक्स और निफ्टी में बढ़त     ||   हिंदूराव अस्पताल के ऑपरेशन थियेटर में निकला सांप , हंगामा     ||   सीबीआई के स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना के आरोपों के बाद हो सकता है उनका लाइ डिटेक्टर टेस्ट    ||   देहरादून की मॉडल ने किया मुंबई में हंगामा , वाचमैन के साथ की हाथापाई , पुलिस आई तो उतार दिए कपड़े     ||   दंतेवाड़ा में नक्सली हमला, दो जवान शहीद , दुरदर्शन के कैमरामैन की भी मौत     ||   सेना हर चुनौती से न‍िपटने के ल‍िए तैयार, सर्जिकल स्ट्राइक भी व‍िकल्‍प: रणबीर सिंह    ||   BJP विधायक मानवेंद्र ने बदला पाला, राज्यवर्धन बोले- कांग्रेस ने 70 साल में मंत्री नहीं बनाया    ||   सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर छिड़ी जंग, हिरासत में 30 प्रदर्शनकारी    ||   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||

आतंकी अफजल गुरू का बेटा गालिब निकला 'ए' ग्रेड वाला छात्र

अंग्वाल न्यूज डेस्क
आतंकी अफजल गुरू का बेटा गालिब निकला

श्रीनगर । भारतीय संसद पर हमले की साजिश रचने वाला मोहम्मद अफजल गुरु भले ही अपने कुकृत्यों के चलते देश की जनता का सबसे बड़ा दुश्मन रहा हो, लेकिन उसका बेटा गालिब गुरु अपने पिता की राह से इतर देश के लिए कुछ कर गुजरने के सपने देख रहा है। गुरुवार को जम्मू-कश्मीर बोर्ड के 12वीं कक्षा के नजीते आए हैं, जिसमें गालिब गुरू ने अच्छा प्रदर्शन करते हुए 12वीं की परीक्षा में 88 फीसदी अंक हासिल किए हैं। जम्मू कश्मीर बोर्ड के नतीजों के मुताबिक, गालिब ने कुल 500 अंकों में से 441 अंक हासिल किए हैं. उसे सभी पांच विषयों में 'ए' ग्रेड मिले हैं। साइंस के इस विद्यार्थी ने पिता की दहशतगर्दी की छाया से अलग 12वीं कक्षा में फिजिक्स, केमेस्ट्री, बायोलॉजी विषय पढ़ें और इन सभी में 80 से ऊपर अंक हासिल किए हैं। हालांकि गालिब के पिता अफजल गुरु को संसद हमले का दोषी पाया गया था, जिसके लिए उन्हें 9 फरवरी 2013 को मौत की सजा दी गई थी। 

 


बता दें कि 10वीं की बोर्ड परीक्षा में गालिब टॉपर रहा था। गालिब ने 10वीं में कुल 500 अंकों में से 474 अंक हासिल किए थे। इस बार फिर उसने 12वीं में शानदार प्रदर्शन किया है। सोशल मीडिया पर गालिब गुरू का रिपोर्ट कार्ड भी वायरल हो रहा है। लोग गाबिल की तारीफ कर रहे है कि पिता की नाकारात्मक छाया और प्रदेश के कठिन हालातों के बीच गालिब ने मन लगाकर पढ़ाई करते हुए अच्छे अंक हासिल किए हैं। 

 

Todays Beets: