Wednesday, September 26, 2018

Breaking News

   ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के पूर्व जीएम के ठिकानों पर आयकर के छापे     ||   बिहार: पूर्व मंत्री मदन मोहन झा बनाए गए प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष। सांसद अखिलेश सिंह बनाए गए अभियान समिति के अध्यक्ष। कौकब कादिरी समेत चार बनाए गए कार्यकारी अध्यक्ष।     ||   कर्नाटक के मंत्री शिवकुमार के खिलाफ ED ने मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया    ||   सीतापुर में श्रद्धालुओें से भरी बस खाई में पलटी 26 घायल, 5 की हालत गंभीर     ||   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||

अखिलेश-राहुल की सियासी दोस्ती में आई दरार!, सपा अध्यक्ष बोले- राजनीति में गठबंधन समय की बर्बादी

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अखिलेश-राहुल की सियासी दोस्ती में आई दरार!, सपा अध्यक्ष बोले- राजनीति में गठबंधन समय की बर्बादी

नई दिल्ली । यूपी विधानसभा चुनावों में कांग्रेस के साथ गठबंधन करने वाली समाजवादी पार्टी अब आगामी लोकसभा चुनावों की तैयारी में जुट गई है। इसके साथ ही सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव की कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के साथ पिछले दिनों नजर आई सियासी दोस्ती में अब दरार पड़ गई है। ऐसा हम नहीं कह रहे बल्कि अखिलेश यादव ने खुद राजनीति में गठबंधन को समय की बर्बादी करार दिया। इस बार अकेले ही लोकसभा के चुनावी समर में कूदने की तैयारी कर रहे अखिलेश यादव ने कहा कि इस समय मेरी प्राथमिकता 2019 के लिए पार्टी को मजबूत करना है। अखिलेश ने हाल में कहा कि अब मैं किसी प्रकार के गठबंधन के बारे में नहीं सोच रहा हूं। गठबंधन और सीट को आपस में बांटकर चुनावों में जाने के बारे में न तो मैं सोच रहा हूं न ही ऐसा करके मैं अपना समय बर्बाद नहीं करना चाहता। मैं खुद को किसी भ्रम में नहीं रहना चाहता। 


अखिलेश यादव ने कहा कि इस समय हम अपने आप को सिर्फ यूपी तक सीमित न रखना चाहते। मध्य प्रदेश, झारखंड, छत्तीसगढ़ में भी हमारे पास मजबूत संगठन है। हम काफी समय से उत्तराखंड और राजस्थान में भी अपने आधार को और मजबूत कर रहे हैं। अखिलेश यादव ने कहा कि भले ही इस बार जनता भाजपा के दिखाए सपनों में खोकर उन्हें वोट दे गई, लेकिन अब गुजरते समय के साथ जनता हमारे शासनकाल को याद कर रही है। 

Todays Beets: