Thursday, October 19, 2017

Breaking News

   पटना पहुंचे मोहन भागवत, यज्ञ में भाग लेने जाएंगे आरा, नीतीश भी जाएंगे    ||   अखिलेश को आया चाचा शिवपाल का फोन, कहा- आप अध्यक्ष हैं आपको बधाई    ||   अमेरिका में सभी श्रेणियों में H-1B वीजा के लिए आवश्यक कार्रवाई बहाल    ||   रोहिंग्या पर किया वीडियो पोस्ट, म्यांमार की ब्यूटी क्वीन का ताज छिना    ||   अब गेस्ट टीचरों को लेकर CM केजरीवाल और LG में ठनी    ||   केरल में अमित शाह के बाद योगी की पदयात्रा, राजनीतिक हत्याओं पर लेफ्ट को घेरने की रणनीति    ||   जम्मू कश्मीर के नौगाम में लश्कर कमांडर अबू इस्माइल के साथ मुठभेड़,     ||   राम रहीम मामले पर गौतम का गंभीर प्रहार, कहा- धार्मिक मार्केटिंग का यह एक क्लासिक उदाहरण    ||   ट्राई ने ओवरचार्जिंग के लिए आइडिया पर लगाया 2.9 करोड़ का जुर्माना    ||   मदरसों का 15 अगस्त को ही वीडियोग्राफी क्यों? याचिका दायर, सुनवाई अगले सप्ताह    ||

आनंदी बेन ने सोनिया-प्रियंका से पूछा- कैसा लगा राहुल का 'संघ में महिलाओं को कच्छा पहने नहीं देखा' वाला बयान

अंग्वाल न्यूज डेस्क
आनंदी बेन ने सोनिया-प्रियंका से पूछा- कैसा लगा राहुल का

अहमदाबाद । कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने गुजारात दौरे पर केंद्र सरकार, राज्य सरकार और संघ को निशाना बनाने के दौरान कुछ ऐसा कह दिया कि अब वह विवादों में घिर गए हैं। गुजरात की पूर्व मुख्यमंत्री आनंदी बेन पटेल ने राहुल गांधी के 'संघ में महिलाओं को कच्छा पहने देखा है' वाले बयान पर आड़े हाथों लेते हुए उनकी मां सोनिया गांधी और बहन प्रियंका वाड्रा से ही सवाल पूछ लिए हैं। आनंदी बेन पटेल ने सोनिया-प्रियंका को संबोधित करते हुए कहा कि सोनिया गांधी और उसकी बहन को पूछो, जो शब्द उसने महिलाओं के बारे में बोले, क्या वो ठीक हैं, क्या आपको उसका यह बयान पसंद आया। इतना ही नहीं उन्होंने कांग्रेस पार्टी से राहुल के इस बयान पर माफी मांगने को कहा। 

ये भी पढ़ें- राहुल गांधी की फिर फिसली जुबान, कटाक्ष करते हुए मोदी की जगह मुुंह से निकला मनमोहन का नाम

असल में राहुल गांधी ने गुजरात विधानसभा चुनावों के मद्देनजर शुरू किए अपने कार्यक्रमों में आरएसएस पर सवाल उठाए थे। राज्य की सत्ताधारी भाजपा और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ पर जोरदार हमला बोलते हुए उन्होंने भाजपा और संघ से जुड़े संगठनों पर महिलाओं के साथ भेदभाव का आरोप लगाया था। गुजरात के अकोटा में आयोजित एक कार्यक्रम में राहुल गांधी ने कहा, ‘भाजपा का मुख्य संगठन आरएसएस है। कितनी महिलाएं हैं आरएसएस में? कभी शाखा में महिलाओं को देखा है शॉर्ट्स (संघ की पोशाक के कच्छे) में? मैंने तो नहीं देखा।’ कांग्रेस नेता ने आरोप लगाया कि बीजेपी महिलाओं के चुप रहने की पक्षधर है।राहुल गांधी के इस बयान के बाद राज्य की पूर्व मुख्यमंत्री आनंदी बेन पटेल ने कांग्रेस से उनके इस बयान पर माफी मांगने की बात कहते हुए सोनिया गांधी और प्रियंका वाड्रा से ही सवाल पूछ लिए हैं। 

ये भी पढ़ें- येचुरी ने मोदी पर हमला करते हुए कहा- योजना की घोषणा करो, चारों ओर अपनी तस्वीर लगाओ, भाषण दो फ...


आनंदी बेने आगे कहा 'कांग्रेस की यही दृष्टि है कि वह महिलाओं के कपड़े देखे। कांग्रेस का यही संस्कार है। अब कांग्रेस को पूछकर महिलाएं कपडे़ पहनेंगी।' उन्होंने चेताया कि अगर कांग्रेस ने माफी नहीं मांगी तो पूरे गुजरात की महिलाएं इसका विरोध करेंगी। आनंदीबेन ने बताया कि आरएसएस में महिलाओं के लिए अलग से शाखा है और पूरे देश में लाखों शाखाएं चल रही हैं। राहुल को इसकी जानकारी ही नहीं है। 

ये भी पढ़ें - राहुल बाबा हमने देश को बोलने वाला पीएम दिया, चुनावों से पहले सरकार का रिपोर्ट कार्ड पेश करेंगे- अमित शाह

बहरहाल , सोशल मीडिया पर भी उनके इस बयान की काफी निंदा की जा रही है, जिसमें लोग राहुल को एक कच्चा राजनीतिज्ञ करार दे रहे हैं। साथ ही उन्हें हिदायत दे रहे हैं कि हमलावर अंजाद में अपने बयानों में गंभीरता लाए। बयानों में कच्चापन उन्हें कभी देश का बड़ा नेता नहीं बनने देगा। 

Todays Beets: