Sunday, February 17, 2019

Breaking News

   महाराष्ट्रः ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा चलाई गई शकुंतला नैरो गेज ट्रेन में लगी आग     ||   केरलः दक्षिण पश्चिम तट से अवैध तरीके से भारत में घुसते 3 लोग गिरफ्तार     ||   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||

गुजरात की ‘लौह महिला’ होंगी मध्यप्रदेश की राज्यपाल, जानें कैसे हुआ फैसला

अंग्वाल न्यूज डेस्क
गुजरात की ‘लौह महिला’ होंगी मध्यप्रदेश की राज्यपाल, जानें कैसे हुआ फैसला

नई दिल्ली। गुजरात की पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा नेता आनंदीबेन पटेल को मध्यप्रदेश का राज्यपाल नियुक्त किया गया है। फिलहाल गुजरात के राज्यपाल ओमप्रकाश कोहली मध्यप्रदेश के राज्यपाल का अतिरिक्त प्रभार मिला हुआ है। बता दें कि मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद आनंदीबेन पटेल ने विधानसभा का चुनाव लड़ने से इंकार कर दिया था। इसके बाद से ही उन्हें कोई नया दायित्व मिलने की संभावना जताई जा रही थी। 

गौरतलब है कि आनंदीबेन पटेल का जन्म 21 नवम्बर 1941 को हुआ। वे गुजरात की पहली महिला मुख्यमंत्री बनी और वे 1998 से गुजरात की विधायक रहीं हैं। आनंदी बेन 1987 से भारतीय जनता पार्टी से जुड़ी हैं और गुजरात सरकार में सड़क और भवन निर्माण, राजस्व, शहरी विकास और शहरी आवास, आपदा प्रबंधन और वित्त आदि महत्वपूर्ण विभागों की कैबिनेट मंत्री का दायित्व निभा चुकी हैं। वे गुजरात की राजनीति में ‘लौह महिला’ के रूप में जानी जाती हैं।

आनंदीबेन की अन्य उपलब्धियां

-सर्वश्रेष्ठ शिक्षक के लिए राष्ट्रपति पुरस्कार (1989)

-गुजरात में सबसे बेहतर शिक्षक के लिए राज्यपाल पुरस्कार (1988)

-पटेल जागृति मंडल मुम्बई द्वारा सरदार पटेल पुरस्कार (1999)

-पटेल समुदाय द्वारा पाटीदार शिरोमणि अलंकरण (2005)

-महिलाओं के उत्थान अभियान के लिए धरती विकास मंडल द्वारा विशेष सम्मान


-मेहसाणा जिला स्कूल खेल आयोजन में पहली रैंकिंग के लिए बीर वाला पुरस्कार

-श्री तपोधन ब्रह्म विकास मंडल द्वारा विद्या गौरव पुरस्कार (2000)

-1994 में उन्होंने बिजिंग में चतुर्थ विश्व महिला सम्मेलन में भारत का नेतृत्व किया।

-नर्मदा नदी स्थित नवगाम जलाशय में डूबती हुई लड़की को बचाने हेतु वीरता पुरस्कार

-चारुमति योद्धा पुरस्कार, अहमदाबाद की विजेता

-अंबुभाई व्यायाम विद्यालय पुरस्कार (राजपिपला) की विजेता

 

Todays Beets: