Saturday, December 15, 2018

Breaking News

   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||   बजरंगबली पर दिए गए बयान को लेकर हिन्दू महासभा ने योगी को कानूनी नोटिस भेजा     ||   पीएम मोदी 3 द‍िसंबर को हैदराबाद में लेंगे पब्ल‍िक मीट‍िंग     ||   भगत स‍िंह आतंकवादी नहीं, हमारे देश को उन पर गर्व है- फारुख अब्दुल्ला     ||   अन‍िल अंबानी की जेब में देश का पैसा जा रहा है-राहुल गांधी     ||

बिहार में समीक्षा यात्रा पर निकले सीएम नीतीश कुमार पर बक्सर में पथराव, बचाने में कई सुरक्षाकमर्मी घायल 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
बिहार में समीक्षा यात्रा पर निकले सीएम नीतीश कुमार पर बक्सर में पथराव, बचाने में कई सुरक्षाकमर्मी घायल 

पटना। बिहार के बक्सर में समीक्षा यात्रा के लिए पहुंचे राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर भीड़ ने हमला कर दिया। इस दौरान भीड़ ने मुख्यमंत्री के काफिले पर पत्थर फेंके और नीतीश के खिलाफ नारेबाजी की। हालांकि पथराव शुरू होते ही उनके सुरक्षाकर्मियों ने सुरक्षा घेरा बनाते हुए सीएम को तो सुरक्षित गाड़ी में बैठा दिया लेकिन इस घटना में कुछ पुलिसवालों को चोटें आईं हैं। पत्थरबाजों ने इस दौरान नीतीश समेत उनके काफिले में मौोजूद गाड़ियों के शीशे तोड़ डाले। इस दौरान हुई पत्थरबाजी में काफिले में भगदड़ मच गई, वहीं कई सामान्य लोग चोटिस भी हुई हैं। वहीं गुस्साए लोगों का कहना था कि वह सब राजनीति करते हैं। इलाके के गांवों का कोई विकास नहीं हो रहा है और लोगों को काफी खराब स्थिति में जीने को मजबूत होना पड़ रहा है। 

विकास कार्यों की समीक्षा के लिए गए थे

बता दें कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार इन दिनों विकास कार्यों की हकीकत जानने के लिए बिहार राज्य में आयोजित समीक्षा यात्रा पर हैं। पिछले साल सात दिसंबर को समीक्षा यात्रा पश्चिम चंपारण जिले से शुरू हुई। यात्रा के दौरान मुख्यमंत्री प्रशासनिक अधिकारियों के साथ हर जिले का दौरा कर रहे हैं और जिले के विकास कामों की समीक्षा कर रहे हैं। समीक्षा यात्रा के दौरान हर जिले में 'सात निश्चय' से संबंधित योजनाओं की प्रगति, शराबबंदी, बाल विवाह मुक्त एवं दहेज उन्मूलन कार्यक्रम, बिहार लोक शिकायत निवारण कानून के क्रियान्वयन सहित विभिन्न कार्यक्रमों में की गई घोषणाओं का अनुपालन और अन्य विकास एवं कल्याणकारी योजनाओं की समीक्षा की जा रही है। 

18 जनवरी तक चलेगी यात्रा


बता दें कि सीएम नीतीश कुमार की यह यात्रा 18 जनवरी तक जारी रहेगी।  इस दौरान कुछ दिनों के लिए मुख्यमंत्री पटना लौटेंगे और फिर कुछ दिनों के अंतराल पर पुन: यात्रा पर निकल जाएंगे। नीतीश अंतिम पड़ाव में 16 से 18 जनवरी के बीच नवादा, गया, औरंगाबाद और जहानाबाद जिले में यात्रा करेंगे। 

पहले भी हुआ है विरोध 

यह पहला मौका नहीं है जब सीएम नीतीश कुमार को लोगों के विरोध का सामना करना पड़ रहा हो। इससे पहले भी समीक्षा यात्रा के दौरान  मुख्यमंत्री को लोगों के विरोध का भी सामना करना पड़ा था। मधुबनी में समीक्षा यात्रा के दौरान वित्त रहित शिक्षकों द्वारा मुख्यमंत्री को काले झंडे दिखाए गए। नीतीश कुमार ने जैसे ही भाषण की शुरुआत की, शिक्षकों ने उन्हें काले  झंडे दिखाए। 

Todays Beets: