Friday, October 20, 2017

Breaking News

   पटना पहुंचे मोहन भागवत, यज्ञ में भाग लेने जाएंगे आरा, नीतीश भी जाएंगे    ||   अखिलेश को आया चाचा शिवपाल का फोन, कहा- आप अध्यक्ष हैं आपको बधाई    ||   अमेरिका में सभी श्रेणियों में H-1B वीजा के लिए आवश्यक कार्रवाई बहाल    ||   रोहिंग्या पर किया वीडियो पोस्ट, म्यांमार की ब्यूटी क्वीन का ताज छिना    ||   अब गेस्ट टीचरों को लेकर CM केजरीवाल और LG में ठनी    ||   केरल में अमित शाह के बाद योगी की पदयात्रा, राजनीतिक हत्याओं पर लेफ्ट को घेरने की रणनीति    ||   जम्मू कश्मीर के नौगाम में लश्कर कमांडर अबू इस्माइल के साथ मुठभेड़,     ||   राम रहीम मामले पर गौतम का गंभीर प्रहार, कहा- धार्मिक मार्केटिंग का यह एक क्लासिक उदाहरण    ||   ट्राई ने ओवरचार्जिंग के लिए आइडिया पर लगाया 2.9 करोड़ का जुर्माना    ||   मदरसों का 15 अगस्त को ही वीडियोग्राफी क्यों? याचिका दायर, सुनवाई अगले सप्ताह    ||

राहुल के 'महिलाओं को कच्छे में नहीं देखा' बयान से नाराज महिलाओं ने पुतला बनाकर उसे पहनाई साड़ी, माथे पर लगाई बिंदी

अंग्वाल संवाददाता
राहुल के

राजकोट । कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर जहां एक ओर पूरी भारतीय जनता पार्टी हमलावर रहती है, वहीं कांग्रेस के इस भावी अध्यक्ष की जुबान कई बार खुद उन्हें फजीहत में डाल देती है। अमूमन अपने अटपटे बयानों को लेकर सुर्खियों में ज्यादा रहने वाले राहुल गांधी को लेकर एक बार फिर हो हल्ला हो रहा है। इस बार गुजरात के राजकोट में महिला संगठनों समेत भाजपा की महिला ब्रिगेड ने उनके एक बयान पर आपत्ति जताते हुए उनका पुलता बनाया, जिसमें उन्हें साड़ी पहनाने के साथ ही, उनके माथे पर बिंदी लगाई गई। ये महिलाएं हाल में राहुल गांधी के उस बयान से नाराज थी, जिसमें उन्होंने आरएसएस पर हमला बोलते हुए कहा था- क्या कभी संघ की शाखाओं में महिलाओं को कच्छा पहने देखा है। हालांकि वह कहना कुछ और चाहते थे, लेकिन उनके कहने के अंदाज में हुई चूक को विपक्ष ने आड़े हाथों ले लिया है। इस दौरान प्रदर्शन करने वाली महिलाओं ने राहुल गांधी से उनसे अपने बयान के लिए माफी मांगने को कहा।

बता दें कि गुजरात विधानसभा चुनावों के मद्देनजर कांग्रेस के भावी अध्यक्ष राहुल गांधी इन दिनों गुजरात के दौरे पर हैं। अपने तीन दिवसीय इस दौरे में वह यूं तो 500 किमी का सफर तय करेंगे, लेकिन 15 दिन के भीतर ही अपनी दूसरी गुजरात यात्रा में वह अपने बयानों को लेकर विवादों में घिर गए हैं। पिछले दिनों एक कार्यक्रम में संघ को घेरते हुए उन्होंने संघ में महिलाओं की स्थिति पर बातें शुरू की। इस दौरान ही उन्होंने जनता से पूछा कि क्या आपने कभी संघ की शाखाओं में महिलाओं को कच्छा पहने देखा है। 


उनके इस बयान को पहले तो राज्य की पूर्व मुख्यमंत्री आनंदीबेन पटेल ने आड़े हाथों लेते हुए सोनिया गांधी और प्रियंका वाड्रा से पूछ लिया कि उन्हें राहुल गांधी का यह बयान क्या पसंद आया। इसके साथ ही उन्होंने चेतावनी दी कि अगर उन्होंने अपने इस बयान पर माफी नहीं मांगी तो गुजरात में उनका विरोध होगा। 

इस सब के बाद बुधवार को गुजरात के विभिन्न कोनों में राहुल गांधी के इस बयान को लेकर प्रदर्शन हुआ। राजकोट में कुछ महिला संगठनों के साथ भाजपा की महिला ब्रिगेड ने राहुल गांधी पर हमला बोला। इस दौरान उन्होंने एक पुलता बनाकर उसे राहुल का चेहरा दिया और फिर उसे साड़ी पहनाई। इसके बाद उसके माथे पर बिंदी लगाई। 

Todays Beets: