Monday, December 17, 2018

Breaking News

   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||   बजरंगबली पर दिए गए बयान को लेकर हिन्दू महासभा ने योगी को कानूनी नोटिस भेजा     ||   पीएम मोदी 3 द‍िसंबर को हैदराबाद में लेंगे पब्ल‍िक मीट‍िंग     ||   भगत स‍िंह आतंकवादी नहीं, हमारे देश को उन पर गर्व है- फारुख अब्दुल्ला     ||   अन‍िल अंबानी की जेब में देश का पैसा जा रहा है-राहुल गांधी     ||

मुख्यमंत्री बनते ही बिप्लव देब चले पीएम की राह,कहा- न खाऊंगा और न खाने दूंगा

अंग्वाल न्यूज डेस्क
मुख्यमंत्री बनते ही बिप्लव देब चले पीएम की राह,कहा- न खाऊंगा और न खाने दूंगा

नई दिल्ली। उत्तरपूर्वी राज्य त्रिपुरा में 25 सालों के वामदल के शासन का अंत करने के बाद पहली बार भाजपा के मुख्यमंत्री बिप्लव कुमार देब ने शनिवार को अपना पद संभाल लिया। पद संभालते ही सीएम बिप्लव कुमार देव प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नक्शेकदम पर चलना शुरू कर दिया है। उन्होंने कहा कि ‘‘मैं न खाऊंगा और न खाने दूंगा’’। राज्य के विकास में जो भी बाधा खड़ी खड़ेगा उस पर कार्रवाई की जाएगी। नए मुख्यमंत्री ने कहा कि अब राज्य में यूनियन के लोग हफ्ता नहीं वसूल पाएंगे। 

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री का पदभार संभालने के बाद बिप्लव कुमार देव ने कहा कि ‘मैं यूनियन को तोड़ने के लिए सीएम नहीं बना हूं लेकिन राज्य में यूनियन के नाम पर जो गुंडागर्दी होती है और कोई उद्योग लगाने से रोकता है तो मैं ऐसा नहीं होने दूंगा। सीएम ने कहा कि मेरा मानना है कि यूनियन इसलिए जरूरी होती है कि किसी कर्मचारी के साथ कोई अन्याय न होने पाए लेकिन अगर यूनियन हफ्ता वसूलेगी या फिर पार्टी के लिए फंड जुटाएगी तो मैं यह नहीं होने दूंगा। मैं राज्य में संविधान जो कहता है, वही लागू करुंगा। 


ये भी पढ़ें - अब बैंकों से 50 करोड़ से ज्यादा का लोन वालों को देना होगा पासपोर्ट डिटेल, वित्त मंत्रालय ने जा...

यहां बता दें कि जब उनसे पिछली सरकार के भ्रष्टाचार की जांच के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि उनकी सरकार भ्रष्टाचार करने वाले किसी भी व्यक्ति को उनकी सरकार नहीं छोड़ेगी। उन्होंने कहा कि मैंने अपने कैबिनेट के मंत्रियों से भी कहा कि मेरी सरकार का मंत्र भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ही तरह है- न खाऊंगा और ना खाने दूंगा। हम राज्य में वैसा ही शासन चलाएंगे जैसा पीएम मोदी चाहते हैं। 

Todays Beets: