Friday, April 26, 2019

Breaking News

   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||   हिमाचल प्रदेश: किन्नौर जिले में आया भूकंप, तीव्रता 3.5     ||

रुुपये की गिरती कीमतों पर कांग्रेस का पीएम पर अटैक, पूछा-देश की गिरती इज्जत के लिए जिम्मेदार कौन? 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
रुुपये की गिरती कीमतों पर कांग्रेस का पीएम पर अटैक, पूछा-देश की गिरती इज्जत के लिए जिम्मेदार कौन? 

नई दिल्ली। अमेरिकी डाॅलर के मुकाबले रुपये की लगातार गिरती कीमतों को लेकर कांग्रेस ने एक बार फिर से प्रधानमंत्री पर हमला बोला है। बुधवार को कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट करते हुए एक के बाद एक कई सवाल दागे हैं। सुरजेवाला ने पीएम से पूछा, कि रुपया एशिया में सबसे कमजोर करेंसी क्यों बना?, देश की इज्जत क्यों कम हुई?, निवेशकों ने दिलचस्पी कम क्यों की? और इस पूरी स्थिति के लिए जिम्मेदार कौन है? बता दें कि रुपया डाॅलर के मुकाबले न्यूनतम स्तर पर पहुंच गया है। 

गौरतलब है कि कांग्रेस के प्रवक्ता ने कहा कि हर मुद्दे पर अपनी राय रखने वाले पीएम एस पर पूरी तरह से ‘चुप’ हैं। उन्होंने कहा कि अंतर बैंकिंग मुद्रा बाजार में बुधवार को अमेरिकी मुद्रा के मुकाबले रुपया गिर कर 72.91 रुपये प्रति डॉलर के सर्वकालिक निम्न स्तर पर आ गया है। कच्चे तेल के ऊंचे दाम और विदेशी पूंजी की निरंतर निकासी से रुपया शुरुआती कारोबार में 22 पैसे गिरा है।


ये भी पढ़ें - इसरो की ‘नई उड़ान’ रचेगी इतिहास, अमेरिका और रूस को टक्कर

यहां बता दें कि रुपये की लगातार गिरती कीमतों से पूरा देश परेशान है। रुपये की इस स्थिति की वजह से सरकारी परियोजनाओं की लागत में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। खबरों के अनुसार रुपये की गिरती हालत के चलते महाराष्ट्र सरकार के द्वारा वीवीआईपी को लाने-ले जाने के लिए खरीदे जाने वाले हैलीकाॅप्टर की कीमत कई गुना बढ़ गई है। 

Todays Beets: