Tuesday, October 23, 2018

Breaking News

   सेना हर चुनौती से न‍िपटने के ल‍िए तैयार, सर्जिकल स्ट्राइक भी व‍िकल्‍प: रणबीर सिंह    ||   BJP विधायक मानवेंद्र ने बदला पाला, राज्यवर्धन बोले- कांग्रेस ने 70 साल में मंत्री नहीं बनाया    ||   सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर छिड़ी जंग, हिरासत में 30 प्रदर्शनकारी    ||   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||   केरलः अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद ने सबरीमाला फैसले के खिलाफ HC में लगाई याचिका    ||   कोलकाताः HC ने दुर्गा पूजा आयोजकों को ममता के 28 करोड़ देने के फैसले पर रोक लगाई    ||    रूस के साथ S-400 एयर डिफेंस मिसाइल पर भारत की डील    ||   नार्वेः राजधानी ओस्लो में आज होगा शांति के नोबेल पुरस्कार का ऐलान    ||   अंकित सक्सेना मर्डर केसः ट्रायल के लिए अभियोगपक्ष के 2 वकीलों की नियुक्ति    ||   जम्मू कश्मीर में नेशनल कॉफ्रेंस के दो कार्यकर्ताओं की गोली मारकर हत्या, मरने वालों में एक MLA का पीए भी     ||

मध्य प्रदेश में बलात्कारियों को मिलेगी फांसी की सजा, विधेयक को मिली मंजूरी

अंग्वाल न्यूज डेस्क
मध्य प्रदेश में बलात्कारियों को मिलेगी फांसी की सजा, विधेयक को मिली मंजूरी

भोपाल। मध्यप्रदेश में 12 साल और उससे कम उम्र की लड़कियों से बलात्कार करने वालों को फांसी की सजा मिलेगी। मध्यप्रदेश विधानसभा के शीतकालीन सत्र में इसे मंजूरी दे दी गई है। बता दें कि इस विधेयक को सर्वसम्मति से पास किया गया है और अब इस विधेयक को कानूनी रूप देने के लिए राष्ट्रपति के पास भेजा जाएगा।

सख्त प्रावधान

गौरतलब है कि मध्यप्रदेश की शिवराज सिंह सरकार ने कहा कि इस मामले में नैतिक आंदोलन चलाने की जरूरत है। शिवराज ने कहा, ‘महिलाएं विशेषकर बेटियों की सुरक्षा एक चिंता का विषय है और इसी को लेकर विधानसभा ने एक ऐतिहासिक विधेयक पास किया है जिसमें 12 साल या उससे कम उम्र की बेटियों के साथ दुराचार करने वाले आरोपियों को फांसी की सजा देने का प्रावधान किया गया है। बेटियों का पीछा करने वाले आरोपियों के खिलाफ भी सख्त प्रावधान इस विधेयक में किया गया है। 


ये भी पढ़ें - गुजरात चुनाव के लिए कांग्रेस ने जारी किया अपना घोषणा पत्र, खुश गुजरात, खुशहाल गुजरात का दिया नारा

जुर्माने का प्रावधान

विधानसभा में पारित हुए विधेयक के मुताबिक आईपीसी की धारा 376 (बलात्कार) और 376 डी (सामूहिक बलात्कार) में संशोधन प्रस्ताव को मंजूरी प्रदान की है। दोनों धाराओं में दोषी को फांसी की सजा देने का प्रावधान शामिल किया गया है। महिलाओं के साथ छेड़छाड़ और उन्हें घूरने जैसे मामले में दोषियों को सजा के साथ एक लाख रुपये के जुर्माने का प्रावधान है। यहां बता दें कि मध्यप्रदेश सरकार की पिछली कैबिनेट बैठक में ग्रामीण विकास मंत्री गोपाल भार्गव ने आशंका जताई थी कि बलात्कारियों के लिए मौत की सजा के प्रावधान से अपराधी पीड़ितों को मारने की कोशिश करेंगे। ऐसे में सरकार को सोच समझ कर फैसले लेने चाहिए।

Todays Beets: