Thursday, December 13, 2018

Breaking News

   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||   बजरंगबली पर दिए गए बयान को लेकर हिन्दू महासभा ने योगी को कानूनी नोटिस भेजा     ||   पीएम मोदी 3 द‍िसंबर को हैदराबाद में लेंगे पब्ल‍िक मीट‍िंग     ||   भगत स‍िंह आतंकवादी नहीं, हमारे देश को उन पर गर्व है- फारुख अब्दुल्ला     ||   अन‍िल अंबानी की जेब में देश का पैसा जा रहा है-राहुल गांधी     ||    दिल्ली: TDP नेता वाईएस चौधरी को HC से राहत, गिरफ्तारी पर रोक     ||    पूर्व क्रिकेटर अजहर तेलंगाना कांग्रेस समिति के कार्यकारी अध्यक्ष बनाए गए     ||   किसानों को कांग्रेस ने मजबूर और बीजेपी ने मजबूत बनाया: PM मोदी     ||

शिवराज सरकार की पोल खोलने के चक्कर में खुद फंसे ‘दिग्गी राजा’, बाद में मांगी माफी

अंग्वाल न्यूज डेस्क
शिवराज सरकार की पोल खोलने के चक्कर में खुद फंसे ‘दिग्गी राजा’, बाद में मांगी माफी

नई दिल्ली।  अक्सर अपने बयानों की वजह से चर्चा में रहने वाले कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह ने एक बार फिर से सोशल मीडिया पर गलत फोटो ट्वीट कर खुद ही फंस गए। बड़ी बात यह है कि गलती की तरफ ध्यान दिलाने पर उन्होंने माफी भी मांग ली। बता दें कि मध्यप्रदेश की शिवराज सिंह चौहान सरकार को घेरने के चक्कर में उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल पर एक पिलर में आई दरार की फोटो पोस्ट करते हुए उसे भोपाल के रेलवे पुल का बताया और लिखा, ‘‘यह है सुभाष नगर रेलवे फाटक भोपाल पर बन रहे रेलवे ओवर ब्रिज का एक पोल, जिसमें आ गई दरारें/क्रैक इसकी गुणवत्ता पर सवाल उठाती हैं, अभी तो पुल भी नहीं बना। एक भाजपा नेता के मार्ग दर्शन में निर्माण हो रहा है फिर यह सब क्यों और कैसे ? वाराणसी की दुर्घटना यहां भी ना हो जाए।

 

गौरतलब है कि कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ट्विटर पर द्वारा पोस्ट की गई जानकारी की जांच करने वाली वेबसाइट ‘एल्टन्यूज’ ने सिंह का ध्यान इस गलती की ओर दिलाते हुए लिखा कि यह दरार पड़ा पुल पाकिस्तान के रावलपिंडी का है और यह क्षतिग्रस्त मेट्रो के एक पिलर की पुरानी तस्वीर है। बेवसाइट ने बताया कि इस पिलर का इस्तेमाल सोशल मीडिया में कई बार हुआ है और हर बार इसे अलग-अलग जगह का बताया गया है। 


 

ये भी पढ़ें - एक बार फिर तालिबान के हमले से दहला अफगानिस्तान, 15 सुरक्षाकर्मियों की मौत, कई जख्मी

यहां बता दें कि जानकारी मिलते ही दिग्विजय सिंह ने फौरन माफी मांगते हुए कहा कि ‘मैं  अपनी इस गलती के लिए माफी मांगता हूं। मेरे एक मित्र ने मुझे फोटो भेजी थी, यह मेरी गलती है कि मैंने इसकी जांच किए बिना ट्विटर हैंडल पर शेयर किया।’गौर करने वाली बात है कि इससे पहले तेलंगाना में भी सरकार को निशाना बनाते हुए इस तस्वीर को पोस्ट किया गया था लेकिन बाद में वहां भी वेबसाइट ने नेता को सही बात की जानकारी दी थी। इस मामले में फिल्म अभिनेत्री शबाना आजमी भी रेलवे कर्मचारियों की एक फोटो ट्वीट कर फंस चुकी हैं हालांकि बाद में उन्होंने भी माफी मांग ली थी। 

Todays Beets: