Thursday, December 13, 2018

Breaking News

   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||   बजरंगबली पर दिए गए बयान को लेकर हिन्दू महासभा ने योगी को कानूनी नोटिस भेजा     ||   पीएम मोदी 3 द‍िसंबर को हैदराबाद में लेंगे पब्ल‍िक मीट‍िंग     ||   भगत स‍िंह आतंकवादी नहीं, हमारे देश को उन पर गर्व है- फारुख अब्दुल्ला     ||   अन‍िल अंबानी की जेब में देश का पैसा जा रहा है-राहुल गांधी     ||    दिल्ली: TDP नेता वाईएस चौधरी को HC से राहत, गिरफ्तारी पर रोक     ||    पूर्व क्रिकेटर अजहर तेलंगाना कांग्रेस समिति के कार्यकारी अध्यक्ष बनाए गए     ||   किसानों को कांग्रेस ने मजबूर और बीजेपी ने मजबूत बनाया: PM मोदी     ||

पत्थरबाजों के केस वापस लेने वाले मामले पर भाजपा सांसद का बड़ा बयान, कहा- गोली मार देनी चाहिए

अंग्वाल न्यूज डेस्क
पत्थरबाजों के केस वापस लेने वाले मामले पर भाजपा सांसद का बड़ा बयान, कहा- गोली मार देनी चाहिए

नई दिल्ली। जम्मू कश्मीर में पत्थरबाजों पर दर्ज मामले को वापस लेने पर नेताओं की प्रतिक्रिया जारी है। अब हरियाणा के भिवानी जिले से भाजपा के राज्यसभा सांसद डीके वत्स ने पत्थरबाजों को लेकर एक बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि इन लोगों को गोली मार देनी चाहिए। बता दें कि कुछ दिनों पहले सेना के अधिकारियों के बच्चों द्वारा दायर याचिका में पूछा गया है कि जिन सुरक्षाबल के मानवाधिकार का हनन हो रहा है क्या उन्हें मानवाधिकारों की रक्षा करने वालों की जरुरत नहीं है?

गौरतलब है कि सेना के अधिकारियों के बच्चों द्वारा याचिका में इस बता का भी जिक्र किया गया था कि भारतीय नागरिक खासकर सेना के जवानों के बच्चे होने की वजह से उन्हें उन जवानों की चिंता है जिनकी नियुक्ति अशांत क्षेत्रों में की गई है। अब इस याचिका को लेकर केन्द्र सरकार ने मानवाधिकार आयोग को अपना जवाब दिया है। केन्द्र सरकार ने कहा कि पत्थरबाजों के केस वापस लेने से सेना का मनोबल गिरेगा। 


ये भी पढ़ें - पीएनबी को करोड़ों का चूना लगाने वाला नीरव मोदी भागा लंदन, मांगी राजनीतिक शरण

यहां बता दें कि केन्द्र सरकार ने यह भी कहा कि इस तरह की घटनाओं से आतंकियों को नागरिकों का इस्तेमाल मानव ढाल के तौर पर करने और आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने का बढ़ावा मिलेगा। सरकार का दायित्व है कि वह जजवानों के मानवाधिकारों को बचाने के लिए पत्थरबाजों और उकसाने वाले लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करें।

Todays Beets: