Friday, June 22, 2018

Breaking News

   उत्तर भारत में धूल: चंडीगढ़ में सुबह 11 बजे अंधेरा छाया, 26 उड़ानें रद्द; दिल्ली में भी धूल कायम     ||   टेस्ट में भारत की सबसे बड़ी जीत: अफगानिस्तान को एक दिन में 2 बार ऑलआउट किया, डेब्यू टेस्ट 2 दिन में खत्म     ||   पेशावर स्कूल हमले का मास्टरमाइंड और मलाला पर गोली चलवाने वाला आतंकी फजलुल्लाह मारा गया: रिपोर्ट     ||   कानपुर जहरीली शराब मामले में 5अधिकारी निलंबित     ||   अब जल्द ही बिना नेटवर्क भी कर सकेंगे कॉल, बस Wi-Fi की होगी जरुरत     ||   मौलाना मदनी ने भी की एएमयू से जिन्‍ना की तस्‍वीर हटाने की वकालत     ||   भारत-चीन सेना के बीच हॉटलाइन की तैयारी, LoC पर तनाव होगा दूर     ||   कसौली में धारा 144 लागू, आरोपित पुलिस की गिरफ्त से बाहर     ||   स्कूली बच्चों पर पत्थरबाजी से भड़के उमर अब्दुल्ला, कहा- ये गुंडों जैसी हरकत     ||   थर्ड फ्रंट: ममता, कनिमोझी....और अब केसीआर की एसपी चीफ अखिलेश यादव के साथ बैठक     ||

टीम से बाहर चल रहे युवराज की बढ़ सकती हैं मुश्किलें, घरेलू हिंसा का मामला दर्ज

अंग्वाल न्यूज डेस्क
टीम से बाहर चल रहे युवराज की बढ़ सकती हैं मुश्किलें, घरेलू हिंसा का मामला दर्ज

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम से बाहर चल रहे युवराज सिंह की मुश्किलें और बढ़ सकती हैं। युवराज की भाभी आकांक्षा शर्मा ने युवराज और उसके परिवार के खिलाफ घरेलू हिंसा का आरोप लगाते हुए मामला दर्ज कराया है। इस मामले में सुनवाई 21 अक्टूबर को होगी। 

 

आभूषण वापस मांगे

गौरतलब है कि आकांक्षा की वकील स्वाति सिंह मलिक ने बताया कि उनकी मुवक्किल ने पति जोरावर सिंह, सास शबनम सिंह और देवर युवराज सिंह के खिलाफ घरेलू हिंसा का केस दर्ज कराया है। मामले की सुनवाई 21 अक्टूबर को होगी। यहां बता दें कि युवराज की भाभी की वकील स्वाति का कहना है कि युवी की मां शबनम सिंह ने हाल ही में आकांक्षा के खिलाफ एक शिकायत दर्ज कराई थी जिसमें उन्होंने शादी में दिए गए आभूषण और दूसरे सामान वापस मांगे थे। 


ये भी पढ़ें - पूर्व राष्ट्रपति ने ममता बनर्जी को ‘जन्मजात विद्रोही’ बताया, कहा-उनका भी किया था अपमान

युवी की चुप्पी

आपको बता दें कि युवराज पर केस दर्ज कराने को लेकर आकांक्षा के वकील ने बताया कि ‘घरेलू हिंसा का मतलब सिर्फ शारीरिक हिंसा नहीं है। इसका मतलब मानसिक और आर्थिक उत्पीड़न से भी है। युवराज पर भी ये बात लागू होती है क्योंकि जब आकांक्षा के साथ गलत हो रहा था, तब वे (युवराज सिंह) इसपर कुछ नहीं बोल रहे थे।’ स्वाति ने आरोप लगाया कि शबनम, जोरावर और आकांक्षा की जिंदगी में बहुत दखल देती थीं।

Todays Beets: