Thursday, October 18, 2018

Breaking News

   सेना हर चुनौती से न‍िपटने के ल‍िए तैयार, सर्जिकल स्ट्राइक भी व‍िकल्‍प: रणबीर सिंह    ||   BJP विधायक मानवेंद्र ने बदला पाला, राज्यवर्धन बोले- कांग्रेस ने 70 साल में मंत्री नहीं बनाया    ||   सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर छिड़ी जंग, हिरासत में 30 प्रदर्शनकारी    ||   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||   केरलः अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद ने सबरीमाला फैसले के खिलाफ HC में लगाई याचिका    ||   कोलकाताः HC ने दुर्गा पूजा आयोजकों को ममता के 28 करोड़ देने के फैसले पर रोक लगाई    ||    रूस के साथ S-400 एयर डिफेंस मिसाइल पर भारत की डील    ||   नार्वेः राजधानी ओस्लो में आज होगा शांति के नोबेल पुरस्कार का ऐलान    ||   अंकित सक्सेना मर्डर केसः ट्रायल के लिए अभियोगपक्ष के 2 वकीलों की नियुक्ति    ||   जम्मू कश्मीर में नेशनल कॉफ्रेंस के दो कार्यकर्ताओं की गोली मारकर हत्या, मरने वालों में एक MLA का पीए भी     ||

आपसी तल्खी भुलाकर दो ‘दुश्मन’ बने ‘दोस्त’, कहा- आगे संबंध शानदार रहेंगे

अंग्वाल न्यूज डेस्क
आपसी तल्खी भुलाकर दो ‘दुश्मन’ बने ‘दोस्त’, कहा- आगे संबंध शानदार रहेंगे

नई दिल्ली। अक्सर एक-दूसरे के खिलाफ जहर उगलने वाले दो देशों के शीर्ष नेताओं की सिंगापुर में मुलाकात हुई है। जी हां, हम बात कर रहे हैं अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन की। दोनों नेताओं के बहुप्रतीक्षित मुलाकात सिंगापुर के सेंटोसा द्वीप पर स्थित कपेला होटल में हुई। दोनों नेताओं ने आपसी तल्खी भुलाकर एक-दूसरे से गर्मजोशी के साथ हाथ मिलाया और हंसकर बात की। मुलाकात के दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि दोनों देशों के संबंध शानदार होंगे और हम सबकुछ भुलाकर आगे बढ़ेंगे। 

गौरतलब है कि उत्तरकोरिया के नेता किम जोंग उन ने भी अपनी कड़वाहट भुलाकर काफी दोस्ताना अंदाज में अमेरिकी राष्ट्रपति से मिले। उन्होंने कहा कि हमने बीती बातों को भुलाकर यह मुलाकात की है। बताया जा रहा है कि दोनों नेताओं के बीच करीब 50 मिनट तक बातचीत हुई। अमेरिकी राष्ट्रपति और उत्तर कोरियाई नेता के बीच हुई इस मुलाकात के बाद माना जा रहा है कि ट्रंप और किम के बीच बेहद तल्ख रहे रिश्तों में थोड़ी नरमी आएगी। 


ये भी पढ़ें- ‘महागठबंधन’ में शामिल होने की अटकलों पर विराम लगाते हुए कुशवाहा ने तेजस्वी को दी नसीहत, कहा- ...

यहां बता दें कि इन दोनों नेताओं की मुलाकात पर पूरी दुनिया की नजर बनी हुई थी। मुलाकात से पहले दोनों नेताओं के अंदाज से ऐसा लग रहा था कि बहुत जल्द ही तीसरा विश्वयुद्ध भी होने वाला है।  गौर करने वाली बात है कि किम तीन पीढ़ियों में उत्तर कोरिया के पहले नेता हैं जिन्होंने अमेरिकी राष्ट्रपति से मुलाकात की है। इसी तरह ट्रंप पद पर रहते हुए किसी उत्तर कोरियाई शीर्ष नेता से मिलने वाले पहले अमेरिकी राष्ट्रपति हैं। 

Todays Beets: