Saturday, December 15, 2018

Breaking News

   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||   बजरंगबली पर दिए गए बयान को लेकर हिन्दू महासभा ने योगी को कानूनी नोटिस भेजा     ||   पीएम मोदी 3 द‍िसंबर को हैदराबाद में लेंगे पब्ल‍िक मीट‍िंग     ||   भगत स‍िंह आतंकवादी नहीं, हमारे देश को उन पर गर्व है- फारुख अब्दुल्ला     ||   अन‍िल अंबानी की जेब में देश का पैसा जा रहा है-राहुल गांधी     ||

मई में मिलेंगे धुर विरोधी ट्रंप और किम, विश्वशांति के लिए अहम कदम

अंग्वाल न्यूज डेस्क
मई में मिलेंगे धुर विरोधी ट्रंप और किम, विश्वशांति के लिए अहम कदम

नई दिल्ली। दुनिया के दो बड़े धुर विरोधी नेता एक-दूसरे से हाथ मिलाने को तैयार हो गए हैं। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन मई में मिलेंगे और दक्षिण कोरिया दोनों की मुलाकात की मध्यस्थता कराएगा। दक्षिण कोरिया के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार चुंग ईयू योंग ने व्हाइट हाउस में पत्रकारों से बात करते हुए उत्तर कोरिया ने भविष्य में परमाणु बम और मिसाइल परीक्षण नहीं करने का आश्वासन भी दिया है। दोनों की इस पहल को विश्वशांति के लिए बेहद अहम बताया जा रहा है।

 

गौरतलब है कि मध्यस्थता करने वाले दक्षिण कोरिया के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार ने कहा कि किम जोंग उन ने कहा है कि वह परमाणु निरस्त्रीकरण के लिए प्रतिबद्ध हैं। इसके जवाब में राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा कि वे किम के साथ मिलकर स्थाई परमाणु निरस्त्रीकरण हासिल करना चाहते हैं।


ये भी पढ़ें - त्रिपुरा में आज से होगा ‘भगवाराज’, बिप्लवदेब लेंगे सीएम की शपथ, पीएम और भाजपाध्यक्ष भी रहेंगे मौजूद

यहां गौर करने वाली बात है कि उत्तर कोरियो के नेता को अपनी सनक के लिए जाना जाता है, उसके द्वारा लगातार किए जा रहे परमाणु परीक्षण से कोरियाई प्रायद्वीप में तनाव का माहौल बना रहता है। इस बात को लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तरकोरिया के नेता किम जोंग उन के बीच काफी तीखी नोंकझोंक भी होती रही है। इसकी वजह से दोनों देशों के बीच युद्ध शुरू होने जैसे हालात भी बनने की आशंका जताई गई है लेकिन दक्षिण कोरिया में हुए विंटर ओलिंपिक के दौरान दोनों कोरिया के बीच तनाव का माहौल में कमी देखी गई है। ऐसे में उत्तर कोरिया और अमेरिका की मुलाकात दुनिया की शांति के लिए काफी अहम माना जा रहा है। 

Todays Beets: