Sunday, March 24, 2019

Breaking News

    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||   हिमाचल प्रदेश: किन्नौर जिले में आया भूकंप, तीव्रता 3.5     ||   PAK सेना के ISPR के डीजी ने कहा- हम युद्ध की तैयारी नहीं कर रहे, भारत धमकी दे रहा है     ||   ICC को खत लिखेगी BCCI- आतंक समर्थक देश के साथ खत्म हो क्रिकेट संबंध     ||

मई में मिलेंगे धुर विरोधी ट्रंप और किम, विश्वशांति के लिए अहम कदम

अंग्वाल न्यूज डेस्क
मई में मिलेंगे धुर विरोधी ट्रंप और किम, विश्वशांति के लिए अहम कदम

नई दिल्ली। दुनिया के दो बड़े धुर विरोधी नेता एक-दूसरे से हाथ मिलाने को तैयार हो गए हैं। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन मई में मिलेंगे और दक्षिण कोरिया दोनों की मुलाकात की मध्यस्थता कराएगा। दक्षिण कोरिया के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार चुंग ईयू योंग ने व्हाइट हाउस में पत्रकारों से बात करते हुए उत्तर कोरिया ने भविष्य में परमाणु बम और मिसाइल परीक्षण नहीं करने का आश्वासन भी दिया है। दोनों की इस पहल को विश्वशांति के लिए बेहद अहम बताया जा रहा है।

 

गौरतलब है कि मध्यस्थता करने वाले दक्षिण कोरिया के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार ने कहा कि किम जोंग उन ने कहा है कि वह परमाणु निरस्त्रीकरण के लिए प्रतिबद्ध हैं। इसके जवाब में राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा कि वे किम के साथ मिलकर स्थाई परमाणु निरस्त्रीकरण हासिल करना चाहते हैं।


ये भी पढ़ें - त्रिपुरा में आज से होगा ‘भगवाराज’, बिप्लवदेब लेंगे सीएम की शपथ, पीएम और भाजपाध्यक्ष भी रहेंगे मौजूद

यहां गौर करने वाली बात है कि उत्तर कोरियो के नेता को अपनी सनक के लिए जाना जाता है, उसके द्वारा लगातार किए जा रहे परमाणु परीक्षण से कोरियाई प्रायद्वीप में तनाव का माहौल बना रहता है। इस बात को लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तरकोरिया के नेता किम जोंग उन के बीच काफी तीखी नोंकझोंक भी होती रही है। इसकी वजह से दोनों देशों के बीच युद्ध शुरू होने जैसे हालात भी बनने की आशंका जताई गई है लेकिन दक्षिण कोरिया में हुए विंटर ओलिंपिक के दौरान दोनों कोरिया के बीच तनाव का माहौल में कमी देखी गई है। ऐसे में उत्तर कोरिया और अमेरिका की मुलाकात दुनिया की शांति के लिए काफी अहम माना जा रहा है। 

Todays Beets: